एक बार फिर तैयार हुई ‘बालिका वधू’

ऐसा माना जाता है कि बाल विवाह जैसे मामले गुजरे जमाने की बात हो चुकी है। आज के समय में ऐसा कोई नहीं करता पर यहां हम आपको जो मामला बताने जा रहे हैं उसे जान कर आपको देश के विकास और आधुनिक समाज की आधुनिक सोच पर प्रश्न चिन्ह लगता नजर आएगा। हकीकत यह है कि सरकार व सामाजिक संगठनों की तमाम कोशिशों के बाद भी बाल विवाह जैसी सामाजिक कुरीति थमने का नाम नहीं ले रही है।

दरअसल यहां हम आपको जिस मामले के बारे में बताने जा रहे हैं वह है चित्तौड़गढ़ राजस्थान के जयसिंह पुरा गांव का है। यहां दो छोटी बच्चियों की शादी कराई गई है। बताया जा रहा है कि दो दिन पहले इस गांव में एक ही परिवार की दो नाबालिग बेटियों का विवाह कराया गया है। सोशल मीडिया पर इस शादी का वीडियो वायरल होने के बाद शासन-प्रशासन के होश उड़ गए। सच्चाई पता करने के लिए फौरन सरकारी अफसर जयसिंहपुरा गांव रवाना हुए। चर्चा है कि इस बात की भनक लगते ही इस परिवार के लोग घर से नदारत हो गए।

balika-vadhu

क्या है पूरा मामला-

चित्तौड़गढ़ के पास जयसिंह पुरा गांव में एक ही मंडप में दो काफी कम उम्र की लड़कियों की शादी कराई गई है। वहीं पुलिस का कहना है कि जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें एक काफी कम उम्र की लड़की की शादी होती नजर आ रही है। इस बच्ची की उम्र तकरीबन 4 साल और लड़के की 10-11 साल के बीच लग रही। यह बच्ची इतनी छोटी है कि फेरे पूरे कराने के लिए पुरोहित को उसकी मदद करनी पड़ रही। यही नहीं इस दौरान यह छोटी बच्ची परेशान होकर काफी रोती भी रही और उसे जबरदस्ती फेरे लगवाए गए। शादी के समारोह में लड़का और लड़की पक्ष के काफी लोग शामिल हुए।

अभी तक नहीं हुई किसी की गिरफ्तारी-

पुलिस का कहना है कि इस अपराध में शामिल लोगों को पहचान लिया गया है, लेकिन अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। वहीं मामले की जांच के लिए गांव पहुंचे अधिकारियों को इस परिवार का कोई सदस्य नहीं मिला। गांव वाले भी कुछ बताने को राजी नहीं थे। जब अधिकारियों ने अलग तरीके से बातचीत की तो कुछ ग्रामीणों ने दबी जुबान से बाल विवाह की बात पर हामी भरी तो कुछ ने घटना को झूठा बताया।

To Top