होली पर बनाएं सबकी फेवरेट गुझिया

0
516

होली रंगों का त्योहार है। इस दिन हर कोई खुशियों के रंग में रंगा नज़र आता है। इस दिन घरों में मिठाइयों की भरमार रहती है, लेकिन गुझिया एक ऐसी मिठाई है जिसे ख़ासतौर पर होली पर ही बनाया जाता है। गुझिया में मावा और खूब सारे ड्राई फ्रूट्स भरे जाते हैं। यह खाने में बेहद स्वादिष्ट होती है। आइए सीखते हैं गुझिया बनाना।

सामग्री –

gujia-ingredients4Image Source :http://www.ruchiskitchen.com/
  • मैदा – 1 कप (125 ग्राम)
  • घी – 2 टेबल स्पून (30 ग्राम)
  • दूध – 1/2 कप
  • स्टफिंग के लिए
  • 500 ग्राम खोया
  • 350 ग्राम पिसी चीनी
  • 50 ग्राम कुतरा हुआ ताजा नारियल
  • 25 ग्राम कटे काजू
  • 25 ग्राम कटे बादाम
  • 25 ग्राम किशमिश
  • आधा छोटा चम्मच इलायची पाउडर
  • बाहर की परत के लिए
  • 500 ग्राम मैदा
  • 75 ग्राम घी
  • तलने के लिए तेल
  • गुझिया बनाने का सांचा

गुझिया बनाने की विधि –

3611gujia003.1Image Source :http://www.lokvani.com/
  • खोया अच्छी तरह मैश कर लें और धीमी आंच पर कड़ाही में भून लें।
  • जब यह हल्के भूरे रंग का हो जाए तो आंच से उतार कर ठंडा कर लें।
  • भरावन की बाकी सारी सामग्री को इस खोये में अच्छी तरह मिला लें।
  • गुझिया का खोल (बाहर की परत) बनाने के लिए मैदा छान लें।
  • इसमें घी मिलाएं और फिर जरूरत के हिसाब से पानी डालते हुए सख्त गूंथ लें। थोड़ी देर के लिए गीले कपड़े से ढक कर रख दें।
  • इस तैयार आटे को छोटे-छोटे हिस्सों में बांट लें और हर हिस्से को गोल आकार देने के बाद छोटी रोटी में बेल लें।
  • गुझिया बनाने का सांचा लें और इसमें दोनों तरफ हल्का तेल लगा दें। अब बेली हुई रोटी को इस सांचे में रखें और एक चम्मच के करीब तैयार की गई भरावन की सामग्री को इसमें मिला दें।
  • सांचा बंद करें करें और जो भी हिस्सा बाहर रह जाए, उसे हटा दें।
  • इसी तरह सारे आटे से गुझिया तैयार करें और एक गीले कपड़े पर रखते जाएं।
  • कड़ाही में तेल गर्म करें और मध्यम आंच पर एक बार में 4-5 गुझिया डीप फ्राई कर लें। जब गुझिया हल्की सुनहरी होने लगे तो आंच से हटा दें।
  • जब सारी गुझिया ठंडी हो जाए तो एयर टाइट कंटेनर में बंद करके रख दें।
wwImage Source :http://www.metrojournalist.com/

सुझाव –

  • गुझिया के लिये पूरी एक जैसी बेलें।
  • गुझिया फटे नहीं, इसके लिए स्टफिंग बहुत ज्यादा न भरें।
  • गुझिया के किनारे अच्छी तरह से चिपकाएं। अगर कोई गुझिया फट जाए तब उसे अलग रख लीजिए और सारी गुझिया तलने के बाद उसे तल लीजिए।
  • अगर घी में कोई फटी गुझिया चली जायेगी तो स्टफिंग घी में आ जायेगी और फिर बची हुई गुझिया तलना मुश्किल हो जाएगा। ऐसा होने पर गैस बन्द करके घी को छान लें, उसके बाद बची हुई गुझिया तलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here