आईएसआईएस के लड़ाकों की उल्टी गिनती शुरू

0
367

दुनियाभर के लिए आतंक का पर्याय बने आईएसआईएस पर इन दिनों मुश्किल के बादल मंडराने लगे हैं। आपको बता दें कि इनके आतंकियों को एक नौकरी पेशा व्यक्ति की तरह ही रखा जाता है। साथ ही इन आतंकियों के भी परिवार हैं। इनको परिवार चलाने के लिए सैलरी भी दी जाती है, लेकिन बीते दिनों पेरिस पर हमले के बाद से ही इनकी मुश्किलों का दौर शुरू हो गया है। अब आईएसआईएस के आका बगदादी ने अचानक अपने सभी आतंकियों की सैलेरी में कटौती कर दी है।

दुनिया के सभी देशों में अपनी हुकूमत बनाने का ख्वाब देखने वाला बगदादी इन दिनों मुश्किल के दौर से गुजर रहा है। आईएसआईएस आतंकी संगठन से जुड़े सभी आतंकियों का भी परिवार है। वह भी अपने परिवार वालों को पैसे भजते हैं, लेकिन यह पैसे लूट के नहीं होते। यह पैसे तो उनकी सैलेरी के होते हैं। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इन आतंकवादियों को विश्व की शांति व्यवस्था को भंग करने के लिए सैलरी मिलती है। वे भी आतंक का काम सैलरी के आधार पर ही करते हैं। इनके खेमे में जहां लड़ाके मौजूद हैं, वहीं आईटी के जानकारों की भी बड़ी संख्या है। किसी भी लड़ाई के दौरान लड़ाकों को आगे किया जाता है। वहीं, दुश्मन देशों की खुफिया जानकारियों को जुटाने का काम आईटी के एक्सपर्ट को दिया जाता है। इन सभी को इनके कामों के अनुसार सैलरी का वितरण किया जाता है। मगर बीते दिनों पेरिस पर हमला करने के बाद से इनका मुश्किल दौर शुरू हो गया है।

1Image Source: http://i2.cdn.turner.com/

बगदादी ने अपने सभी आतंकियों को खत जारी कर कहा है कि अब से सभी आतंकियों की सैलरी को आधा कर दिया गया है। इसके कारण अब इन सभी मुजाहिदीनों की सैलरी में सीधे रूप से पचास फीसदी कटौती कर दी गई है। इस फैसले में सभी छोटे और बड़े आतंकी को शामिल किया गया है। सैलरी में कटौती के अलावा सभी जरूरतों का सामान महीने में पहले की ही तरह दो बार बांटा जाएगा।

आईएस के कब्जे वाले इराक के शहर रक्का से जारी किए गए इस खत से साबित होता है कि पेरिस हमले के बाद से इनको पैसों की तंगी सताने लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here