यूपी का ददुआ डकैत बना भगवान

0
642

आप इसे चाहे कुछ भी सोचें, लेकिन यह किसी फिल्म की कहानी नहीं है। यह एक हकीकत है यूपी की, जहां एक डकैत के लिए मंदिर बनाया जा रहा है। यहां कुख्यात डकैत ददुआ की पूजा की जाएगी और मंदिर में उसकी मूर्ति भी लगेगी। इन सब के लिए फतेहपुर में भव्य समारोह भी होगा। साथ ही रामकथा का आयोजन भी होना है। जिसके बाद मंदिर में ददुआ की मूर्ति स्थापित कर दी जाएगी। इतना ही नहीं, यह आयोजन इतना भव्य है कि आस-पास के 5-6 गांव से आने वाले लोगों के लिए यहां पर 20 पंडाल भी बनवाए गए हैं।

जी हां, हम बात कर रहे हैं यूपी और मध्य प्रदेश में खौफ का दूसरा नाम रहे डकैत ददुआ की। ददुआ डकैत, जिसका 20 साल तक फतेहपुर से बुंदेलखंड तक आतंक रहा उसे भगवान की तरह मंदिर में पूजने की तैयारी हो रही है। ददुआ उर्फ शिव कुमार पटेल पर 150 से ज्यादा हत्या के साथ-साथ करीब 250 किडनैपिंग, लूट, डकैती के मामले हैं। कहा जाता है कि वो बीड़ी में इस्तेमाल होने वाले तेंदू पत्तों का गैंग भी चलाता था।

1Image Source: http://i.ndtvimg.com/

जुलाई 2007 में यूपी एसटीएफ ने उसे पाठा के जंगलों में मार गिराया था। ददुआ एनकाउंटर के करीब 9 साल बाद उसे मंदिर में बैठाने की कोशिश हो रही है। बता दें कि यह काम कोई और नहीं बल्कि उसके सांसद भाई बाल कुमार पटेल और विधायक बेटा वीर कुमार सिंह कर रहे हैं। अपने डकैत भाई के लिए सांसद की दलील है कि ददुआ ने सामंतों के खिलाफ गरीबों की लड़ाई लड़ी। उन्होंने ददुआ डकैत को गरीबों का मसीहा और देवता कहा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस कार्यक्रम के लिए सीएम अखिलेश यादव सहित मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादव को न्यौता तक भेजा गया है। जिसमें से किसी एक के आने की उम्मीद भी है।

2Image Source: http://hindi.oneindia.com/

मंदिर में ददुआ सहित उसकी पत्नी और माता-पिता की भी मूर्ति लगाई जाएगी। ददुआ के पिता की मूर्ति को अभी देखा जा सकता है, लेकिन अभी तक ददुआ की मूर्ति को छिपाकर रखा गया है। इसे लेकर चर्चा तो हर ओर है, लेकिन पुलिस इस मामले से अपने आपको अंजान बता रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here