सांसद बनने के लालच ने बना दिया लेडी डकैत

0
347

चंदा गड़रिया एक ऐसा नाम जिसने ना जानें कितने लोगों की जान अपनी इस 12 बोर की बंदूक के भेंट की थी। चंदा को मध्य प्रदेश की शिवपुरी पुलिस ने बीते दिनों अमोला के जंगलों से गिरफ्तार कर लिया है। जंगल की वादियोंके बीच मंडराती ये लेडी डकैत किडनैपिंग कर लोगों को मारने पीटने और डराने का काम करती थी। जिसकी दहशत चारों ओर फैल चुकी थी।

डकैत चंदा, फूलनदेवी की तरह ग्लैमर से भरी जिंदगी बिताना चाहती थी और इसी शान शौकत के साथ वह जंगलों में भी स्टायलिश कपड़े जींस-टीशर्ट पहनकर घूमती थी। इसके खौफनाक कारनामों की वजह से इस पर 10 हजार का ईनाम भी सरकार ने घोषित किया था और पुलिस भी काफी सतर्क हो कर खोजबीन कर रही थी। किसी साजिश को अंजाम देने के लिये निकली चंदा को पुलिस ने अमोला के घने जंगलों से गिरफ्तार कर लिया है।

chanda-mediacalImage Source :http://i9.dainikbhaskar.com/thumbnail/680×588/

बताया जाता है कि चंदा डैम के एक इंजीनियर के बेटे को किडनैप कर भारी रकम वसूल करने की फिराक में थी। सूत्रों और पुलिस के मुताबिक पुलिस को एक गुप्त सूचना मिली थी कि सलैया के जंगलों में खतरनाक डकैत चंदा गड़रिया और उनके साथी हथियारों से लैस होकर किसी घटना को अंजाम देने के लिए निकले थे। जिसकी भनक लगते ही पुलिस चौकन्नी हो गई और पुलिस ने अपनी टीम को चारों ओर से घेराबंदी करने के लिए निर्देश दे दिए। सर्चिंग ऑपरेशन के दौरान  पुलिस ने चंदा को मौके पर धर दबोच लिया, पर उसके दूसरे साथी भागने में  कामयाब हो निकले।

vlcsnapImage Source :Police rushed to the Lady Mobster 

वहीं, अभी कुछ ही दिनों पहले सुर्खियों छाया डकैत चंदन गड़रिया और उसकी प्रेमिका चंदा की प्रेम कहानी का अंत भी 30 जनवरी को हो गया था। चंदन गड़रिया नाम का डकैत पुलिस की गोली का शिकार बना था। गिरफ्तारी के बाद चंदा से काफी पूछताछ की गई, जिसमें उसने अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि उसकी शादी काफी समय पहले वीरपाल से हुई थी। जिससे उसे एक बेटा भी है, पर ससुर की प्रताड़ना के चलते उसे अपना घर छोड़ मायके जाना पड़ा और वहीं उसकी मुलाकात अपने ममेरे भाई चंदन से हुई जिसे उसने अपनी सारी बात बताई। इसके बाद तो चंदन को जैसे कोई बड़ा मौका ही मिल गया हो पैसे कमाने का। उसने चंदा को अमीरी का लालच देकर फूलन देवी का उदाहरण उसके सामने ऱख उसे डकैत बना जंगल में उतार दिया। इसी के साथ चलने लगा बुराइयों का नया दौर, पर फूलन देवी की तरह दौलत और शोहरत पाने की इच्छा ने उसकी सारी मनोकामना पर पानी फेर डाला और डाल दिया उसे सलाखों के पीछे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here