बैग्स में किताबों के साथ अब रखे जाएंगे हथियार

स्कूल और कॉलेजों में छात्रों को मोबाइल तक ले जाने की इजाजत नहीं दी जाती है। वहीं, आप सोंचे कि अगर आपको किताबों के साथ ही हथियार लाने की इजाजत दे दी जाए तो आप क्या करेंगे। बेखौफ कैंपस में मस्ती से घूमेंगे। कुछ ऐसा ही हुआ है पाकिस्तान में। स्टूडेंट को हथियार के साथ आने की इजाजत पाकिस्तान की एक यूनिवर्सिटी ने प्रदान की है। यह इजाजत छात्रों के सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए दी गई है।

पाकिस्तान में बीते 20 जनवरी को बाचा खान यूनिवर्सिटी में आतंकी हमला हुआ था। इस हमले में करीब 21 लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा था। इस हमले के बाद यूनिवर्सिटी 15 फरवरी को दोबारा खोली गई है। इसी के साथ ही पाकिस्तान सरकार की ओर से यहां के प्रोफेसर, अन्य फैकल्टी मेंबर और छात्रों को हथियार लाने की इजाजत मिल गई है। फिलहाल यूनिवर्सिटी में सुरक्षा के सभी इंतजाम कर लिए गए हैं। इसके साथ ही प्रोफेसर और अन्य स्टाफ को कैंपस में हथियार रखने की इजाजत दे दी गई है ताकि वह इन हथियारों से मौके पर अपनी सुरक्षा कर सकें। उन्हें इन लाइसेंसी हथियारों को अपने साथ छुपाकर रखने को भी कहा गया है। यूनिवर्सिटी में छात्र भी हथियार ला सकते हैं, लेकिन छात्रों को इन हथियारों को कैंपस के अंदर नहीं ले जाने दिया जाएगा। छात्रों को यह हथियार कैंपस गेट पर ही जमा करवाना होगा।

1Image Source: http://hindinews24-d50.kxcdn.com/

कैंपस में छात्रों की सुरक्षा के लिए दीवारों को भी ऊंचा करवाया गया है। वहीं, कैंपस में तैनात सुरक्षा कर्मियों की संख्या में भी इजाफा किया गया है। ऐसा ही आतंकी हमला यहां आर्मी स्कूल में भी हुआ था।

To Top