केजरीवाल के लैपटॉप में आया वायरस, हैकर ने मांगी 2 करोड़ की फिरौती

-

IIT के पूर्व छात्र और वर्तमान में दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को कौन नहीं जानता है, पर हाल ही में उनके लैपटॉप में रैंसमवेयर वायरस का अटैक हुआ है और उनसे मांगी गई है 2 करोड़ की फिरौती। जी हां, यह सच है। आपके कुछ समय पहले रैंसमवेयर वायरस से बहुत से लोगों के कंप्यूटर हैक होने वाली खबरें पढ़ी या सुनी ही होंगी।

अब फिर से रैंसमवेयर वायरस एक्टिव हो गया है और इस बार उसने सबसे पहले शिकार बनाया है मुख्यमंत्री केजरीवाल को। हैकर ने केजरीवाल को पत्र लिखकर 2 करोड़ की फिरौती मांगी है। हैकर द्वारा लिखें गए इस पत्र को हम आपके सामने ज्यों का त्यों रख रहें हैं। आप पढ़िए इस पत्र को और जानिए हैकर ने क्या कुछ लिखा था अपने इस पत्र में।

Hacker attacked the laptop of kejariwal with a ransomeware and asks ransom of 2 croreimage source:

“मान्यवर मुख्यमंत्री जी,
नमस्ते।
आशा है आप सकुशल होंगे। बच्चों को हैकर मामा की ओर से आशीर्वाद देना। आपको यह खबर देते हुए हमें बहुत गर्व अनुभव हो रहा है कि हमने आखिरकार आपका लैपटॉप हैक कर लिया है। अब आपका लैपटॉप हम लोगों के कब्जे में ही हैं और इसमें छुपी वे सभी जानकारियां भी जो आपने अत्यंत स्ट्रांग पासवर्ड लगाकर रखी हुई थी, हम लोगों के सामने खुली हुई हैं।

इनमें से लोकपाल, शिला दीक्षित की चार्टशीट, मोदी जी की तिजोरी का गुप्त पता जैसी चीजें हैं। यदि आप इसको वापस चाहते हैं तो आने वाली अमावस्या की रात को पुराने किले के पीछे आ जाएं। यह तो कहियेगा ही मत की हमारे पास पैसे नहीं है, हम आम आदमी हैं। हमको सब अच्छे से मालूम है। जो बैग आपको सतेंद्र भाई ने दिया था उसी बैग को लेकर आपको आना है, वरना हम आपके लैपटॉप से सारी जानकारी मिटा देंगे। सुनीता भौजी को हमारा प्रणाम कहना।
आपके शुभचिंतक
हैकर मामा”

Hacker attacked the laptop of kejariwal with a ransomeware and asks ransom of 2 croreimage source:

इस पत्र को लेकर तुरंत केजरीवाल ने आईटी सेल में FIR दर्ज कराई है। मीडिया में बात आने के बाद में जब मीडिया के लोगों ने पूछा कि इसके पीछे किसका हाथ है तो केजरीवाल भड़क गए। उन्होंने सीधे-सीधे पीएम मोदी पर आक्षेप लगाते हुए कहा कि “मोदी जी ने अपने सबूत मिटाने के लिए हैकरों से साठ-गांठ की है, जी।

अब आप ही बताओं हिंदी में पत्र कौन लिखता है। यह सब हिंदी प्रेमी मोदी की ही चाल है। हम तो आम लोग है जी। खैर, इस बार आप पर यह गलती बहुत भारी पड़ेगी मोदी जी देख लेना आप।”, इतना कहते ही वह अपने घर में किसी चीज को ढूंढने में मशगूल हो गए थे, शायद वह सतेंद्र जैन वाला बैग ही ढूंढ रहें थे।

विशेष नोट- इस तरह के आलेख से हमारा उद्देश्य केवल आपका मनोरंजन करना है। इसमें मौजूद नाम, संस्था और राजनीतिक पार्टियों की छवि को धूमिल करना हमारा उद्देश्य नहीं है। साथ ही इसमें बताया गया घटनाक्रम मात्र काल्पनिक है। अगर इससे कोई आहत होता है तो हमें बेहद खेद हैं।

shrikant vishnoihttp://wahgazab.com
किसी भी लेखक का संसार उसके विचार होते है, जिन्हे वो कागज़ पर कलम के माध्यम से प्रगट करता है। मुझे पढ़ना ही मुझे जानना है। श्री= [प्रेम,शांति, ऐश्वर्यता]

Share this article

Recent posts

देखो भाई अजब तमाशा, जापान ने बनाया ऐसा टॉयलेट जो बोले खुलेपन की भाषा

वैसे तो पारदर्शिता या जिसे आप ट्रांसपेरेंसी कहते हैं वो चाहिए तो संबंधों में थी उससे मन साफ रहता पर चलिए यहाँ शौचालय पारदर्शी...

आजादी की आखिरी रात यानी १५ अगस्त, १९४७ को घटनाक्रम ने क्या-क्या मोड़ लिए थे, आईये जानते हैं

इस वर्ष यानि 2020 का स्वतंत्रता दिवस गत वर्षों से भिन्न होगा | दुर्भाग्यवश कोरोना महामारी से हमारा देश और पूरा विश्व प्रभावित है...

मशहूर शायर राहत इंदौरी का दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन

कल शाम दिल का दौरा पड़ने से मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन हो गया | ज़िन्दगी के ७० बरस गुज़ार चुकने के बाद...

बाबा ज्योति गिरि महाराज की काली करतूत वीडियो में हुई दर्ज

बाबा राम रहीम और आसाराम बापू के बाद हरियाणा के मार्केट में एक और बाबा का नाम नाबालिगों के साथ कथित तौर पर बलात्कार...

डब्बू अंकल को टक्कर देने आ गए डॉक्टर अंकल, कमरिया ऐसी लचकाई कि लोग हो गए दीवाने

बहुत वक़्त नहीं हुआ जब आपने एक शादी समारोह में भोपाल के संजीव श्रीवास्तव (डब्बू अंकल) नाम के व्यक्ति को गोविंदा के गाने पर...

Popular categories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments