सर्दी जुकाम से बचने के इलाज हैं आपकी रसोई में

मौसम बदलने के साथ ही सेहत पर भी असर पड़ने लगता है। इन दिनों सर्दी के आगमन पर सर्दी जुकाम व तेज सिर दर्द, बुखार आने जैसी समस्याओं से लोगों को जूझना ही पड़ता है। दिन में धूप व सुबह, शाम ठंड होने पर अभी लोग गर्म कपड़ों का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। इस कारण से भी लोग इन मौसमी बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं, लेकिन आपको इन बीमारियों से घबराने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि इन छोटी बीमारियों का इलाज हमारी ही रसोंई में मौजूद है। दादी, नानी के जो नुस्खे हम भूल गए हैं वो ही इन बीमारियों में कारगर उपाय साबित होते हैं।

मौसम के करवट लेते ही अमूमन हर व्यक्ति सर्दी, खांसी जैसी बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। इन बीमारियों के लिए डॉक्टर की सलाह पर महंगी दवाई खाने की भी आपको आवश्यकता नहीं है। बस आपको अपनी रसोंई में रखी कुछ चीजों का इस्तेमाल करना होगा। यह नुस्खे आपको तुरंत लाभ प्रदान करने वाले होते हैं।
खाने में इस्तेमाल किए जाने वाली इलायची का प्रयोग करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोत्तरी होती है, जिससे सर्दी जुकाम और अन्य मौसम बदलाव में होने वाली बीमारियों से बचाव होता है। साथ ही इलायची को पीसकर रूमाल में रखकर सूंघने से सर्दी जुकाम और खांसी तुरंत ठीक हो जाती है।
अदरक के रस को शहद के साथ मिलाकर पीने से भी सर्दी में आराम मिलता है। इसके अलावा नीबू और शहद को उबलते हुए पानी मे मिलाकर सोने से पहले पीने पर सर्दी जुकाम ठीक हो जाता है।
आधे चम्मच कालीमिर्च पाउडर में एक चम्मच मिश्री को मिलाकर एक कप गर्म दूध के साथ दिन में तीन बार पिएं। हर रोज रात को दूध में थोड़ा सा हल्दी पाउडर और गुड़ उबालकर पीने से भी आराम मिलता है। गुनगुने पानी में नीबू डालकर पीने से सर्दी और खांसी में आराम मिलता है।

To Top