स्टैमिना बढ़ाने के लिए प्रयोग करें इन मुख्य आहारों को

आजकल जैसे-जैसे समय बदल रहा है वैसे-वैसे लोगों की दिनचर्या में भी काफी बदलाव हो रहे हैं। आज के युवकों को अपने स्वास्थ्य की काफी चिन्ता रहती है और इसके लिए वो अक्सर वर्कआउट का सहारा लेते हैं। अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो जिम में जाकर वर्कआउट करना पसंद करते हैं और उस से अपने शरीर को स्वस्थ बनाए रखते हैं, लेकिन उसके बाद भी आप अपने आपको स्वस्थ महसूस नहीं कर पाते तो हो सकता है आपके शरीर में स्टैमिना की कमी हो। अगर आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में स्टैमिना नहीं होगी तो उससे भी आप किसी कार्य को पूरा नहीं कर सकेंगे और आप हर काम के बाद बहुत ही जल्दी थकने भी लगेंगे।

आजकल-जैसे-जैसे-समय-बदल-रहा-है-वैसे-वैसे-लोगों-की-दिनचर्याImage Source :https://i.ytimg.com/

स्टैमिना के बारे में जब भी बात की जाती है तो ज्यादातर लोग इसे शरीर में मौजूद शक्ति से तुलना करने लगते हैं, जिसकी मदद से आप कोई भी काम करने में खुद को सक्षम समझते हैं लेकिन स्टैमिना का अर्थ केवल इतना ही नहीं होता है। इससे आपके शरीर को बीमारियों और तनाव से लड़ने में मदद मिलती है, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि वर्कआउट करने के लिए भी एनर्जी और स्टेमिना की आवश्यकता होती है। अगर आपके शरीर में स्टैमिना ही नहीं होगी तो आप कभी भी अपना वर्कआउट पूरी तरह से नहीं कर सकेंगे। अपने शरीर में स्टैमिना बनाए रखने के लिए जरूरत है कि आप समय पर भोजन करें व अपने भोजन में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें जो आपके शरीर में स्टैमिना को बढ़ाने में मदद करें। अगर आप सोच रहे हैं कि हर तरह के भोजन को खाने से स्टैमिना बढ़ती है तो ऐसा नहीं है। कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जिनका सेवन करने से आपके शरीर में बहुत ही कम समय से स्टैमिना आ सकती है। एक फिट बॉडी के साथ आपके शरीर में स्टैमिना भी हो तो आप एक स्वस्थ शरीर के मालिक बन सकते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम अपके लिए कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ लेकर आए हैं, जिनकी मदद से आप अपने शरीर की स्टैमिना को बढ़ा सकते हैं।

1. शकरकंद-

शकरकंद को ज्यादातर लोग स्वीट पोटैटो के नाम से जानते हैं। वैसे अधिकतर लोग इसे आलू की ही तरह समझते हैं और इसे खाने से परहेज करते हैं, लेकिन यह आलू से बहुत अलग होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा मौजूद होती है। इसमें कैलोरी सामान्य मात्रा में मौजूद होती है तथा एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन, फाइबर और लवण काफी अच्छी मात्रा में मौजूद होते हैं। इतना ही नहीं इसमें कोलेस्ट्रॉल और सैचुरेटेड फैट की मात्रा नहीं होती है। इसमें पर्याप्त मात्रा में आयरन भी होता है जो आपके शरीर में एनर्जी को बनाए रखने में मदद करता है।

इस बात को तो आप भी जानते ही होंगे कि अगर शरीर में आयरन की कमी होगी तो उससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी प्रभावित होगी। अगर आप वर्कआउट के बाद इसका सेवन करते हैं तो इससे आपके शरीर में स्टैमिना बढ़ेगी और आपका एनर्जी लेवल भी बढ़ जाएगा।

शकरकंदImage Source :http://4.bp.blogspot.com/

2. केला-

केला एक ऐसा फल है जो आपके शरीर में स्टैमिना को बढ़ाने में बहुत मदद करता है। केले में पर्याप्त मात्रा में फाइबर मौजूद होते हैं जो भोजन को पचाने में मदद करता है। इतना ही नहीं, इसमें आयरन की भी पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है। यह आपकी भूख को भी नियंत्रित करने में मदद करता है। केले में नेचुरल शुगर और फाइबर भी काफी अच्छी मात्रा में मौजूद होता है, जिससे अगर आप एक लंबी दौड़ के बाद इसका सेवन करते हैं तो ये आपके शरीर में एनर्जी की मात्रा को बढ़ा कर आपके शरीर में स्टैमिना के स्तर को भी बढ़ाता है। अक्सर यही कहा जाता है कि वर्कआउट व रनिंग से कम से कम 20 मिनट पहले केला जरूर खा लेना चाहिए।

केलाImage Source :http://lorenzovinci.ilgiornale.it/

3. कॉफी-

अक्सर आपने लोगों को यह कहते हुए सुना होगा कि ज्यादा कॉफी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है, लेकिन अगर आप ज्यादा नहीं केवल एक कप कॉफी रोज लेते हैं तो इससे आपके शरीर में स्टैमिना बढ़ सकती है। आप जब भी वर्कआउट के लिए जाएं तो उससे पहले एक कप कॉफी पी लें। इससे आपके शरीर में स्टैमिना की किसी भी तरह की कमी नहीं आएगी, क्योंकि कॉफी में पर्याप्त मात्रा में कैफीन होता है जो आपके शरीर में एनर्जी को बढ़ाने में मदद करता है।

कॉफीImage Source :http://1.bp.blogspot.com/

4. चुकंदर-

चुकंदर खाने की सलाह तो हर कोई देता है क्योंकि इसमें कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट, मिनरल, आयरन, फॉस्फोरस, पोटेशियम आदि पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। चुकंदर में पाये जाने वाले खनिज तत्व खून को बढ़ाने में मदद करते हैं। जिससे ब्लड प्यूरीफाई होता है। इतना ही नहीं अगर आप इसका जूस रोज पीते हैं तो इससे आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ जाएगी क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं जो शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करते हैं। तो अच्छा होगा कि आप वर्कआउट के बाद एक गिलास चुकंदर का जूस जरूर पी लें। ये आपके शरीर में एनर्जी लेवल को बढ़ा कर आपके स्टैमिना के स्तर को भी बढ़ाएगा।

चुकंदरImage Source :http://kemtritannhang.com/

5. ओटमील-

ओटमील हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। इस बात को तो आप भी मानेंगे। अगर आप रोज नाश्ते में ओटमील का प्रयोग करते हैं तो उससे आपके शरीर में हर समय एनर्जी बनी रहेगी। ओटमील में कार्बोहाइड्रेट काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता है। इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है, जो कि हमारे शरीर में स्टैमिना को बढ़ाने में मदद करता है।

ओटमीलImage Source :http://s3.amazonaws.com/

6. अखरोट-

अखरोट में पर्याप्त मात्रा में खनिज तत्व पाए जाते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें मिनरल्स भी काफी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। अखरोट जितना आपके बालों और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है, उतना ही यह आपके शरीर में स्टैमिना लेवल को बढ़ाने में भी मदद करता है। अखरोट में ओमेगा 3 भी पाया जाता है जो कि हृदय के लिए बहुत अच्छा होता है। तो अच्छा होगा कि आप जब भी वर्कआउट करने जाएं तो उससे पहले कम से कम एक मुट्ठी अखरोट जरूर खा लें। इससे यह आपके शरीर में एनर्जी लेवल को बनाए रखेगा और आपके शरीर में स्टैमिना की कमी नहीं होगी।

अखरोटImage Source :http://www.vizfact.com/

7. नारियल पानी-

नारियल में 200 मिलीलीटर से भी ज्यादा मात्रा में पानी पाया जाता है। इतना ही नहीं इसमें अमीनो-एसिड, एटीऑक्सीडेंट्स, बी-कॉम्प्लेक्स, विटामिन सी आदि पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। इसे एक बेस्ट एनर्जी ड्रिंक भी माना जाता है। जिसका ज्यादातर लोग प्रयोग वर्कआउट करने से पहले करते हैं क्योंकि इससे शरीर को बहुत से मिनरल्स प्राप्त हो जाते हैं। जिसकी मदद से हमारे शरीर में स्टैमिना की कमी नहीं होती है।

नारियल-पानीImage Source :http://shreejiexpress.com/
To Top