_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/01/","Post":"http://wahgazab.com/know-why-meghnads-head-was-laughing-even-after-being-separated-from-the-body/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/know-why-meghnads-head-was-laughing-even-after-being-separated-from-the-body/know-why-meghnads-head-was-laughing-even-after-being-separated-from-the-body-2/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

सोशल मीडिया पर ग्रुप एडमिन बनने पर रखें सावधानी, इसके कारण हो सकता है आपका कैरियर चोपट

सोशल मीडिया

 

वर्तमान समय में सोशल मीडिया काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है पर इसके लिए आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना जरुरी अन्यथा आपका कैरियर चौपट हो सकता है। यह खास बात आज हम आपको इसलिए बता रहें हैं क्योंकि जिस प्रकार सोशल मीडिया लगातार लोगों में अपना प्रभाव बढ़ाता जा रहा है वैसे ही इससे जुड़े कई आपराधिक मामले भी सामने आ रहें हैं। आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर यदि आप ग्रुप एडमिन बनते हैं तो आपको पूरी तहर से सतर्क रहना चाहिए। सोशल ग्रुप्स में पुलिस तथा प्रशासन के लोगों के एड होने के बाद भी पूरी सतर्कता रखनी चाहिए। कभी कभी ऐसा भी देखा जाता है कि ग्रुप पर कोई भड़काऊ पोस्ट डाला जाता है और वह तेजी से वायरल हो जाता है। ऐसी स्थिति में ग्रुप एडमिन का पूरा भविष्य खराब हो सकता है। इसलिए आईजी जयदीप प्रसाद ने आम लोगो को कुछ खास नसीहते दी है।

सोशल मीडियाImage Source: 

टीआई प्रीतम सिंह ठाकुर ने कहा कि निंदा जैसी घटना भी आजकल जल्दी अखबारों में आ जाती है जिसके बाद व्यक्ति के घर के लोग आहात होते हैं। इस बारे में आईजी ने मीडिया से पुरुस्कृत पुलिस वालों की तस्वीरें भी न्यूज़ पेपर्स में पब्लिश करने की अपील की। आपको जानकारी भी दे दें कि सीनियर एसपी नितिन तिवारी और डिस्ट्रिक मजीस्ट्रेट योगेश्वर राम मिश्रा (वाराणसी) ने एक जॉइंट ऑर्डर पास किया है। इस ऑर्डर के मुताबिक यदि ग्रुप में उत्तेजक भ्रामक हैं तो इस ग्रुप ऐडमिनिस्ट्रेटर पर FIR दर्ज की जा सकती है।

सोशल मीडियाImage Source: 

यदि ग्रुप पर कोई उत्तेजक पोस्ट आ रहा है तो ग्रुप के एडमिन को उस पोस्ट को तुरंत हटा देना चाहिए और ऐसी पोस्ट डालने वाले के खिलाफ एक्शन लेते हुए उस व्यक्ति को ग्रुप से हटा देना चाहिए। इस ऑर्डर में यह भी कहा गया है कि “यदि ग्रुप एडमिन इस प्रकार के मामले में लापरवाही करता है तो ग्रुप के एडमिन की ही गलती मानी जाएगी इसलिए किसी प्रकार का भ्रामक पोस्ट आने पर ऐसी पोस्ट के खिलाफ ग्रुप एडमिन को नजदीकी पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करानी चाहिए।” आपको हम बता दें कि WhatsApp पर भारत में 200 मिलियन यूजर्स हैं। आशा की जाती है यह आदेश निकलने के बाद अब ग्रुप एडमिन लोग जरूर सतर्क होंगे।

Most Popular

To Top