ट्रिपल तलाक- बैन होने पर भी पत्नी को दिया तलाक और घर से निकाला

ट्रिपल तलाक

 

सुप्रीम कोर्ट द्वारा ट्रिपल तलाक को बैन कर देने के बाद भी लोग सुधरने को तैयार नहीं है। हाल ही में उत्तर प्रदेश में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी को ट्रिपल तलाक देकर कानून का मजाक बनाया है। जी हां, यह मामला सामने आया है उत्तर प्रदेश के जिला मेरठ से। सर्वोच्च न्यायालय के ट्रिपल तलाक को बैन करने के बाद में भी भारत का एक बड़ा वर्ग ऐसा है जो इस फैसले को मानने को तैयार नहीं है। उत्तर प्रदेश के जिला मेरठ में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी को तलाक देकर घर से बाहर निकाल दिया है। यह मामला इस बात का गवाह है कि देश की कितनी बड़ी आबादी सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पालन करती है।

ट्रिपल तलाकImage Source: 

पीड़ित महिला ने इस बारे में कहा है कि उसका पति उसको पहले से ही दहेज के लिए परेशान करता था। बीते सोमवार उसके पति ने उसको पीटकर घर से बाहर निकाल दिया। ऐसे में जब उसने अपने पति को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बारे में बताया तो वह और भी ज्यादा भड़क गया और उसने उसी समय अपनी पत्नी को तलाक दे दिया। पीड़ित महिला ने अपनी शिकायत थाने में दर्ज कराई है तथा न्याय के लिए गुहार लगाई है। आपको हम अधिक जानकारी के लिए लिए बता दें कि यह घटना मेरठ के सरधना कस्बे के मोहल्ला कमरा

नवाबान की है। यहां के निवासी सिराज खान का निकाह 6 वर्ष पहले इसी मोहल्ले की अरशी खान नामक महिला से हुआ था। इन दोनों के 3 बच्चे भी हैं।

ट्रिपल तलाकImage Source: 

अरशी खान का कहना है कि शादी के बाद से ही उसका पति उससे दहेज की मांग करता है और पैसे न देने पर वह उसको तलाक की धमकी देता रहा है। बीते सोमवार की शाम को मार-पीट कर उसने अरशी खान को घर से बाहर निकाल दिया था। इस घटना के बाद पति तथा पत्नी दोनों मामले को लेकर पंचायत हुई तथा दोनों ओर से मसले को सुलझाने की कोशिश की गई। इस अवसर पर लड़की पक्ष वालों ने जब सुप्रीम कोर्ट के आदेश वाली बात सभी के सामने रखी, तो महिला का पति ताव में आ गया और उसने भरी पंचायत में ही महिला को तलाक दे दिया। इसके बाद में महिला ने भी अपने पति के खिलाफ सरधना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, ताकि कोर्ट के आदेश के विरुद्ध ट्रिपल तलाक देने के मामले में आरोपी को सजा मिल सके।

To Top