_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/02/","Post":"http://wahgazab.com/actress-nisha-noor-once-a-famous-star-but-had-a-tragic-death/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/this-100-years-old-creature-has-more-than-800-children/news-2/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

अमिताभ बच्चन की जिंदगी से जुड़ी अनसुनी बातें

वो भी एक दौर था, ये भी एक दौर है। वक्त निकल जाता है, लेकिन यादें बनी रहती हैं। आज हम आपसे सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से जुड़ी कुछ ऐसी यादें शेयर करने जा रहे हैं जिनको सुनकर आप हैरत में पड़ जाएंगे कि अमिताभ के साथ ऐसा भी हुआ था। उससे पहले आपको बता दें कि अभी हाल ही में 63वें नेशनल अवॉर्ड में अमिताभ को फिल्म ‘पीकू’ के लिए बेस्ट एक्टर के अवॉर्ड के लिए चयनित किया गया है, जो की उनका चौथा अवॉर्ड है। इससे पहले साल 1990 में फिल्म ‘अग्निपथ’, साल 2005 में फिल्म ‘ब्लैक’ और 2009 में उन्हें फिल्म ‘पा’ के लिए अवॉर्ड मिला था। तो चलिए जानते हैं महानायक की लाइफ से जुड़ी खास यादें…

1975deewar-61Image Source :https://yehhaibollywood.files.wordpress.com/

जब एक महिला ने अमिताभ को दी उनकी प्रॉपर्टी खरीदने की चेतावनी-

अमिताभ की जिंदगी में एक ऐसा वक्त भी आया था जब उन्हें एक महिला ने कहा था कि यहीं बैठे-बैठे मैं तुम्हारी प्रॉपर्टी खरीद लूंगी। आपको ये बात चौंकाने वाली जरूर लग रही होगी, लेकिन यह बात एकदम सच है। आप सभी को ये तो पता है कि अभिनेता बनने के लिए अमिताभ ने काफी मेहनत की है। बता दें कि यह साल 1939 की बात है। अमिताभ और उनका परिवार इलाहाबाद के 17 क्लाइव रोड स्थित एक बंगले में किराए पर रहते था। अब उस बंगले का रख-रखाव करने वाले वकील केके पांडेय के मुताबिक उस समय यह बंगला किसी शंकर तिवारी नामक शख्स का था। जिसको चुनाव लड़ने के दौरान साल 1984 में अमिताभ ने खरीदने की इच्छा जाहिर की थी, लेकिन शंकर तिवारी की पत्नी ने उस समय अमिताभ से ये कहा कि ‘तुम्हारी जितनी प्रॉपर्टी है मैं यहां बैठे-बैठे खरीद लूंगी, लेकिन ये बंगला नहीं दूंगी।‘। उस वक्त बिग-बी को उनकी ये बातें काफी चुभी थी।

flat_1458969001Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

अमिताभ ने इसलिए चुराई थी चवन्नी-

यकीन नहीं हो रहा होगा ना कि अमिताभ चोरी तक कर सकते हैं, लेकिन हिंदी साहित्यकार यश मालवीय के अनुसार अमिताभ ने ऐसा किया था। दरअसल अमिताभ को बचपन से ही इलाहाबाद के 17 क्लाइव रोड पर बनी ‘रानी बेतिया’ को कोठी को देखने का बहुत मन था। किसी ने अमिताभ को बताया था कि इसकी रानी बहुत खूबसूरत हैं। तब से वह रोज स्कूल से आते-जाते वक्त इसको देखा करते थे, लेकिन जब एक बार उन्होंने दरबान से कोठी दिखाने के लिए बोला तो दरबान ने इस एवज में चवन्नी की मांग की। जिसको देखने के लालच में उन्होंने अपनी मां तेजी बच्चन की दराज से चवन्नी तक चुरा डाली, लेकिन अफसोस कि दरबान ने इसके बावजूद भी अमिताभ को कोठी नहीं दिखाई। वहीं दूसरी ओर तेजी बच्चन को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने अमिताभ की काफी पिटाई भी की।

amitabhbhachhan6_14589743Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

जब अमिताभ किसी के पास मदद मांगने गये और उसने मना किया-

इंसान चाहे कितना बड़ा हो या छोटा, लेकिन हर इंसान की जिंदगी में वक्त हमेशा एक सा नहीं रहता। ऐसा ही वक्त अमिताभ की लाइफ में आया। जब वह साल 1984 के चुनाव के दौरान यूपी सरकार के पूर्व मंत्री और सपा नेता रेवती रमण के पास गये, लेकिन रेवती रमण ने उनकी मदद करने से इनकार कर दिया था। उनके अनुसार वह अमिताभ के खिलाफ खड़े हो रहे हेमवती नंदन बहुगुणा को साथ देने का वचन दे चुके थे। जिसके चलते वह अमिताभ की मदद नहीं कर सकते थे।

amitabhbhachhan8_14589906Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

जब अमिताभ को किसी ने 11 रुपये शगुन दिए-

ये वो वक्त था जब माया नगरी से उनके लिए पहली बार ऑफर आया था। उस वक्त ये खबर जानकर लखनऊ में रहने वाली उनकी एक मौसी की लड़की बीरेन्द्र कौर काफी खुश हुईं। जिसके बाद उसने थाल सजाकर अमिताभ का तिलक किया था। साथ ही उन्हें 11 रुपये शगुन भी दिए थे। जिसे अमिताभ ने बहन का प्यार समझकर रख लिया।

amitabhbhachhan9_14589906Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

अमिताभ के इस बचपन के शौक का जानकर हो जाएंगे हैरान-

सबसे प्यारा इंसान का बचपन ही होता है। उस दौरान बच्चों में कई तरह के शौक पैदा हो जाते हैं। ऐसा ही कुछ अलग शौक अमिताभ को भी था। बता दें कि अमिताभ को ढोलक बजाने का बहुत ज्यादा शौक था। वह सबसे छुपकर और कमरा बंद कर ढोलक बजाया करते थे। जिसे उनकी मौसी की बेटी ने सिखाया था। वह उसे अपनी सगी बहन से भी बढ़कर मानते थे।

amitabhbhachhan2_14589663Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

जब किसी ने अमिताभ को कहा था नचनिया-

वैसे तो ज्यादातर सभी को पता है कि साल 1984 में अमिताभ कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव इलाहाबाद से लड़े थे। बता दें कि उस समय उनके खिलाफ राष्ट्रीय लोकदल के हेमंत नंदन बहुगुणा खड़े हुए थे, लेकिन जब कोई सुपरस्टार चुनाव लड़े या कहीं जाए तो भीड़ तो वैसे भी उनके लिए पागल होती है। ऐसे में अमिताभ जब कभी चुनाव के लिए किसी सभा में जाते थे तो लोगों की भीड़ उनके पीछे दौड़ती रहती थी। ऐसे में उस भीड़ को लेकर जनसभा में हेमंत ने अमिताभ को नचनिया कहा था।

हेमंत ने कहा कि-‘भीड़ नचनिय़ा को देखने के लिए उत्सुक है, लेकिन ये नचनिया क्या वोट पाएगा’। जिसके बाद अमिताभ ने भी इस बात पर चुटकी लेते हुए जवाब दिया कि-‘हमारे अंगने में तुम्हारा क्या काम है?’जिसके जवाब में हेमंत ने कहा कि-‘तुम्हारे अंगने में हमारी ससुराल है’। बता दें कि हेमंत बहुगुणा की शादी इलाहाबाद की कमला त्रिपाठी से हुई थी।

amitabhbhachhan5_14589743Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

अमिताभ को देखने के चक्कर में जब गई दो लोगों की जान-

इस बात को सुनकर थोड़ा धक्का जरूर लगेगा, लेकिन अमिताभ ना आज कोई छोटी हस्ती हैं और ना आज से 15-20 साल पहले थे। उनको देखने के लिए भीड़ का पागल होना भी लाजमी है। लोग उनको देखने के लिए काफी दूर-दूर से आते थे, लेकिन ये बात साल 2002 की है जब अमिताभ का केपी कॉलेज में अभिनन्दन हो रहा था। ऐसे में भीड़ ज्यादा होने की वजह से कुछ लोग रेलवे ट्रैक पर बैठकर अपने इस सुपरस्टार को सुन रहे थे। बताया जाता है कि अमिताभ के भाषण को सुनने में वह इतने ज्यादा खो गये कि उनको ट्रेन के आने की आवाज सुनाई नहीं दी और दो लोगों की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई।

amitabhbhachhan4_14592268Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

जब लड़कियों ने अमिताभ को देख कर फेंके दुपट्टे-

सुनकर अटपटा जरूर लगे, लेकिन वो भी एक वक्त था जब लड़कियां अमिताभ को देख अपनी खुशी का इजहार अपने दुपट्टे उन पर फेंककर कर रही थी। दरअसल साल 1984 में इलाहाबाद से अमिताभ को कांग्रेस की तरफ से लोकसभा चुनाव का टिकट मिला था। उस वक्त अमिताभ संगम नगरी के आस-पास की गलियों में प्रचार के लिए जाते थे। वहीं दूसरी ओर फिल्मों में काम करने के कारण लोग उनको बहुत पसंद भी करते थे। खासतौर पर लड़कियां तो उनके लिए पागल रहती थी। ये मामला भी उसी दौरान प्रचार का ही है। जब लड़कियां अपने सामने अमिताभ को देखकर अपनी खुशी को जाहिर करने से रोक नहीं पाईं और उन पर अपने दुपट्टे उड़ा दिए।

Most Popular

To Top