यहां इंसानों के बीच आराम से घूमते हैं बाघ

देश में जानवरों को सुरक्षित माहौल प्रदान करने के लिए ही राष्ट्रीय उद्यानों का निर्माण किया गया है। इन नेशनल पार्क में जानवरों की कई प्रजातियों को जंगल जैसा ही माहौल दिया गया है। साथ ही उनकी संख्या पर भी विशेष रूप से ध्यान दिया जाता है। राजस्थान में ऐसा ही एक राष्ट्रीय उद्यान है रणथंभौर। इस नेशनल पार्क में टाइगर आसानी से देखे जा सकते हैं। साथ ही वह भी इंसानों के बीच घूमने से कोई परहेज नहीं करते। टाइगर को काफी नजदीक से देखने वाले इस नजारे को कभी भूल नहीं पाते हैं।

नेशनल पार्कों में जंगल के सभी जानवरों को सुरक्षित माहौल प्रदान किया जा रहा है। राजस्थान में स्थित रणथंभौर नेशनल पार्क उत्तरी भारत का सबसे बड़ा नेशनल पार्क है। यह पार्क सवाई माधोपुर की सीमा पर स्थित है। इसमें करीब 60 बाघ हैं। शहर से दूर होने के कारण और अरावली की पर्वत माला में स्थित इस नेशनल पार्क में बाघ बड़े ही आराम से घूमते हैं। इस पार्क में बाघ टूररिस्ट्स के काफी नजदीक तक आ जाते हैं। यह पार्क करीब 392 किमी की भूमि पर फैला हुआ है। 1977 में इसे सरकार के द्वारा टाइगर रिजर्व क्षेत्र घोषित किया गया था।

वहीं, इन दिनों बाहर से आने वाले सैलानियों को बाघों को दिखाने के लिए व उनकी नजदीक से फोटो लेने के लिए पार्क में जिन गाड़ियों का प्रवेश किया जाता है वह नेशनल पार्क के नियमों को तोड़ने में भी पीछे नहीं रहते। इसी कारण इन गाड़ियों पर जल्द ही व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम लगवाया जाएगा ताकि हर गाड़ी पर नजर रखी जा सके।

सैफ अली खान भी पहुंच चुके हैं यहां-

saifImage Source: http://i9.dainikbhaskar.com/

इस नेशनल पार्क में वैसे तो हजारों लोग आते हैं, लेकिन इसकी दिवानगी बॉलीवुड में भी है। बॉलीवुड के अभिनेता सैफ अली खान भी इस नेशनल पार्क में 2014 में अपनी पत्नी करीना कपूर और मां शर्मिला टैगोर के साथ पहुंचे थे।

नेशनल पार्क में ऐसे पहुंचें-

यह नेशनल पार्क सवाई माधोपुर से करीब 11 किलोमीटर की दूरी पर है। सवाई माधोपुर से यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है। साथ ही कोटा रेलवे स्टेशन से भी यहां पर पहुंचा जा सकता है।

To Top