अपने अंतिम संस्कार से पहले अचानक जिंदा हो गया यह युवक, डर कर भागे लोग

अंतिम संस्कार

मृत्यु जीवन का अंतिम सत्य है। मृत्यु के ऊपर बहुत से विद्वानों ने अपने अपने विचारों को प्रकट किया है। बहुत से दार्शनिकों ने बहुत कुछ परिभाषित किया है। मृत्यु को लेकर अलग अलग धर्मों में भी अनेको मान्यताएं हैं। इस पर कई मनोवैज्ञानिकों ने भी लंबी रिसर्च की है, लेकिन आज तक कोई इस बात को नहीं बता सका है कि आखिर मृत्यु के समय हमारे शरीर से ऐसी कौन सी चीज निकल जाती है। जिसके कारण हम जीवन का अनुभव नहीं कर पाते। खैर लोगों की यह मान्यता है कि मौत के बाद कोई वापिस नहीं आता बल्कि हमेशा के लिए हम सब से दूर चला जाता है।

मगर हालही में एक ऐसी घटना घटी है जो इस मान्यता के एकदम उलट कर देती है यानि मृत्यु के बाद दोबारा जीवित होने की घटना। इस घटना को लेकर सभी लोग हैरान हैं। मोटे तौर पर बताया जा रहा है कि एक मृत व्यक्ति अपने अंतिम संस्कार से पहले जीवित हो उठा। आज हम आपको इस घटना के बारे में ही विस्तृत जानकारी दे रहें हैं। आइये जानते हैं इस घटना के बारे में।

अंतिम संस्कारImage source:

यह भी पढ़ें – खुद के ही अंतिम संस्कार में शामिल हुए दुनिया के ये कुछ लोग, जानिये इनके बारे में

चेन्नई की है घटना –

सबसे पहले हम आपको बता दें कि यह हैरान कर देने वाली घटना चेन्नई में घटित हुई है। चेन्नई के धारवाड़ के मनागुंडी गांव में घटित इस घटना ने सभी लोगों को हैरत में डाल रखा है। सोशल मीडिया पर भी इस घटना को लेकर खूब चर्चा की जा रही है। घटना के प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया है कि जब एक मृत व्यक्ति को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जा रहा था तो वह अचानक जीवित हो उठा। उसको देख कर सभी लोग भयभीत हो गए और कुछ भाग निकले। वर्तमान में मर कर दोबारा जीवित हुए उस व्यक्ति का इलाज एक अस्पताल में चल रहा है।

अंतिम संस्कारImage source:

दोबारा कराया गया अस्पताल में भर्ती –

असल में यह घटना “कुमार मारेवाड” नामक एक 17 वर्षीय युवक की है। इस युवक को एक आवारा कुत्ते ने काट लिया था। कुछ समय बाद कुमार को बुखार आ गया तथा धीरे धीरे उसकी हालत और बिगड़ गई। जिसके चलते इस युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया। मगर कुमार की हालत लगातार बिगड़ती गई और उसे वेंटिलेटर पर रखने की नौबत आ गई।

डाक्टरों ने बताया कि उसके शरीर में संक्रमण हो चुका है और वह ज्यादा समय जीवित नहीं रहेगा। कुमार के घर के लोग उसको अपने साथ ले जाने लगे। उस समय कुमार के शरीर ने हिलना डुलना बंद कर डाला। लोगों ने इस स्थिति को उसकी मृत्यु मान लिया तथा उसके अंतिम संस्कार की तैयारियां होने लगी। अंतिम संस्कार से पहले कुमार जीवित हो उठा। उसको देख कर लोग हैरान हो गए तथा भयभीत हो उठे। खैर वर्तमान में कुमार का इलाज अस्पताल में ही चल रहा है।

To Top