_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/01/","Post":"http://wahgazab.com/know-why-meghnads-head-was-laughing-even-after-being-separated-from-the-body/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/know-why-meghnads-head-was-laughing-even-after-being-separated-from-the-body/know-why-meghnads-head-was-laughing-even-after-being-separated-from-the-body-2/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

राणा प्रताप के घोड़े चेतक के वंश की है यह घोड़ी, खाती है बादाम और किशमिश

राणा प्रताप

 

राणा प्रताप के बारे में आप जानते ही होंगे। वे एक महान योद्धा तथा एक राष्ट्रवादी व्यक्ति थे। वर्तमान में उनके जीवन के ऊपर कई टीवी धारावाहिक भी चल रहें हैं। राणा प्रताप की जब बात आती है तो उनके घोड़े चेतक का नाम आना भी स्वाभाविक हो ही जाता है। चेतक नामक उनका घोड़ा भी उनकी ही तरह साहसी तथा वीर था। आज हम आपको उसी घोड़े चेतक की वंशज एक घोड़ी के बारे में यहां जानकारी देने जा रहें हैं। वर्तमान समय में बहुत से लोग घोडों को अपने घरों में रखना पसंद करते हैं। कई लोग घुड़सवारी का भी शौंक रखते हैं। ये लोग ऐसे स्थान पर अक्सर जाते हैं जहां घोड़ों का बाजार अथवा मेला लगता है। आपको बता दें कि कुछ ही समय पूर्व महाराष्ट्र प्रदेश के नंदूरबार जिला के सारंगखेडा क्षेत्र में “घोड़ा मेले” का आयोजन किया गया। इस मेले में देशभर से बहुत सी नस्लों के घोड़े आये जिनकी खरीद फरोख्त बड़े स्तर पर की गई। इस मेले में कुछ ऐसे घोड़े भी थे, जिनको देखकर लोग हैरान भी हुए।

कीमत है 2 करोड़ रुपये

राणा प्रतापImage Source: 

आपको बता दें कि इस घोड़े मेले में चेतक की वंशज घोड़ी लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई थी। इस घोड़ी का नाम पद्मा है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस भी इस मेले में आये थे और उन्होंने भी पद्मा नामक इस घोड़ी को देखा। देवेंद्र ने जब पद्मा की कीमत पूछी तो वे हैरान रह गए। इस घोड़ी के मालिक बडका चंदना ने बताया कि इसकी कीमत 2 करोड़ रुपये हैं। घोड़ी के मालिक ने यह भी बताया कि यह कोई आम घोड़ी नहीं है बल्कि राणा प्रताप के घोड़े चेतक ही वंशज है। पद्मा के अलावा इस मेले में बादल, चेतक तथा राजा जैसे घोड़े भी थे जो लोगों के आकर्षण का केंद्र बने हुए थे। पद्मा की वर्तमान कीमत उसके मालिक द्वारा 2 करोड़ लगाई गई है, पर आपको जानकारी दे दें कि इस घोड़ी की कीमत कई राजनेता तथा अश्वप्रेमी 2 करोड़ से भी ज्यादा लगा चुके हैं। इस घोड़ी के मालिक बडका चंदना ने जानकारी देते हुए कहा कि जब यह 4 माह की थी तब उन्होंने इसको कानपुर से खरीदा था और वे बचपन से ही इसको दूध, किशमिश तथा बादाम खिलाते आ रहें हैं। इस प्रकार से घोड़े मेले में चेतक की वंशज यह घोड़ी लोगों के लिए दर्शनीय बनी हुई थी।

Most Popular

To Top