मुस्लिम महिला ने इस तरह जताया अपना विरोध

आज के समय में कई महिला मुस्लिम संस्थाएं ऐसी चल रही हैं जो इस्लाम में औरतों के अधिकारों की मांग कर रही हैं। इस प्रकार की संस्थाएं भारत समेत कई और देशों में भी चल रही हैं, पर कभी-कभी ऐसे वाकये भी देखने को मिलते हैं जब कोई बुद्धिजीवी अकेले ही इस प्रकार के कार्यों के लिए अपनी आवाज को बुलंद करता है। हाल ही में इस प्रकार का एक वाकया सामने आया है, जिसमें मसीह अलनिजाद नाम की महिला ने औरतों के समान अधिकार के लिए अपनी आवाज को बुलंद किया है।

Video Source:

जानकारी के लिए बता दें कि मसीह अलनिजाद नाम की यह महिला ईरान की पत्रकार और एक सामाजिक कार्यकर्ता है। इन्होंने हिजाब की बंदिश को लेकर अपना विरोध छेड़ा हुआ है और इस विद्रोह की शुरूआत अपने हिजाब को निकाल फेंकने से की है।

ईरान में 1979 से महिलाओं का लोगों के बीच हिजाब पहनना जरूरी है। ऐसा न करने पर महिलाओं पर क़ानूनी कार्रवाई की जाती है। सन् 2009 में इस प्रकार के मामलों में करीब 30 लाख महिलाओं पर मुक़दमे चलाये गये थे या जुर्माना लगाया गया था। इसको लेकर बुद्धिजीवी वर्ग में विद्रोह ही आग भड़क रही है, पर कुछ रूढ़िवादी लोगों की मानसिकता इसमें आड़े आ रही है।

To Top