इस मंदिर में चोरी करने पर होती है मन की मुराद पूरी

0
502

हमें बचपन से ही हमारे माता पिता ने यह सीखाया है कि चोरी करना पाप है, लेकिन देवभूमि उत्तराखंड के इस मंदिर की कहानी जरा हट के है। इस धार्मिक स्थान पर अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए आपको चोरी करनी होती है। यह है सिद्धपीठ चूड़ामणि देवी का मंदिर।

यह मंदिर उत्तराखंड के चुड़ियाला गांव में है, जहां पुत्र प्राप्ति के लिए लोग दूर-दूर से दर्शन करने आते हैं। मान्यता यह है कि अगर आप पुत्र की चाह रखते हैं तो ऐसे में आपको मंदिर में आकर माता के चरणों में रखा लोकड़ा चोरी करके अपने साथ ले जाएं तो आपके घर में बेटा पैदा होता है। बता दें कि लोकड़ा लकड़ी का गुड्डा होता है। बेटा होने के बाद आपको एक बार फिर माता के मंदिर में माथा टेकने आना पड़ता है।

Theft in this temple grants the wishesImage Source:

गांव के लोगों के मुताबिक इस मंदिर का निर्माण 1805 में लंढौरा रियासत के राजा द्वारा किया गया था। ऐसा कहा जाता है कि राजा एक बार शिकार करने जंगल गए तो वहां उन्हें माता की पिंडी के दर्शन हुए। राजा का कोई पुत्र नहीं था। राजा ने उसी समय माता से पुत्र प्राप्ति का वरदान मांगा। उनकी यह मुराद पूरी हो गई। मन्नत पूरी होने पर राजा ने इस मंदिर का निर्माण करवाया। तभी से इस मंदिर में दूर-दूर से श्रद्धालु आते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here