पठानकोट मामला: जल्द भारत आएगी एसआईटी

0
411

2 जनवरी 2016 को हुए पठानकोट हमले को लेकर पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा  कि एयरबेस हमले की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) जल्द भारत जाएगी। जिसके लिए भारत ने मंजूरी भी दे दी है। मंत्री निसार अली का कहना है कि “हमारी शुरूआती जांच पूरी हो चुकी है। आगे की जांच के लिए एसआईटी भारत जाएगी।” निसार अली का कहना है कि पठानकोट मामले की जांच में उन्होंने कुछ लोगों को अरेस्ट किया है। वहीं, उनके इस बयान पर भारत का कहना है कि एसआईटी के आने की जानकारी 5 दिन पहले देनी होगी।

2-जनवरी-2016-को-हुए-पठानकोट-हमले-को-लेकर-पाकिस्तान-केImage Source :http://images.indianexpress.com/2016/

किसने की एफआईआर दर्ज-

न्यूज एजेंसी पीटीआई के अनुसार पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के गुजरांवला में काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट ने कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। आपको बता दें कि हमले के बाद पहली बार पाकिस्तान ने आधिकारिक तौर पर कोई एक्शन लिया है। पाकिस्तान सरकार ने ये भी कुबूला कि इस हमले का पाकिस्तान में संचालन हुआ था। आपको बता दें कि हमले के डेढ़ महीने बाद पाकिस्तान में मात्र एक एफआईआर दर्ज की गई थी, जिसमें मौलाना मसूद  अजहर का नाम शामिल नहीं था।

दबाव के चलते नवाज शरीफ ने बनाई थी कमेटी-

पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ ने इंटरनेशनल प्रेशर के चलते 6 मेंबर की कमेटी बनाई थी। जिसमें भारत के सौंपे हुए सुबूतों और आरोपों पर जांच करनी थी। इस कमेटी को 13 जनवरी 2016 में बनाया गया था। इसका संचालन काउंटर टेरेरिज्म डिपार्टमेंट के मुख्य राय ताहिर कर रहे हैं। कमेटी में टॉप सिविल और मिलिट्री अफसर, खैबर पख्तूनवा आईबी के डायरेक्टर, फेडरल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एफआईए) के डायरेक्टर, आईएसआई से ब्रिगेडियर नोमान सईद और मिलिट्री इंटेलिजेंस से ले. कर्नल इरफान मिर्जा हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here