आदि विनायक मंदिर – यहां मानव रूप में विराजमान है भगवान गणेश

भगवान गणेश को सभी अच्छे से जानते हैं देश-विदेश में सभी जगहों पर उनके बहुत से मंदिर हैं, पर सभी में एक बात कॉमन हैं कि इन सभी मंदिरों में भगवान गणेश गजमुख यानि हाथी के मुख रूप में ही विराजमान हैं, लेकिन आज हम आपको यहां बता रहें हैं दुनिया के एकमात्र ऐसे मंदिर के बारे में जहां पर भगवान गणेश मानव रूप में विराजमान हैं, आइए जानते हैं इस मंदिर के बारे में।

sree-vinayaka-mandiradhi-vinayagar-templetamilnadu1Image Source:

इस मंदिर का नाम “आदि विनायक मंदिर” है और यह मंदिर तमिलनाडु में तिलतर्पणपुरी नामक स्थान पर स्थित हैं, तिलतर्पणपुरी का अर्थ होता है “पूर्वजों को समर्पित शहर”। इस स्थान के बारे में यह मान्यता हैं कि भगवान राम ने त्रेतायुग में इस स्थान पर अपने पूर्वजों की आत्मा के लिए उपासना की थी, इसलिए यह स्थान पूर्वजों की पूजा या उनकी आत्मा की शांति के लिए विशेष माना जाता है। वर्तमान में भी बहुत से लोग इस स्थान पर आकर अपने पूर्वजों की आत्मा के लिए पूजन करते हैं। इस स्थान पर बने आदि विनायक मंदिर की खासियत यह भी है कि यहां पर विराजमान भगवान गणेश की प्रतिमा नरमुखी है, यानि वह मानव रूप में विराजमान हैं। इस मंदिर परिसर में भगवान शिव का भी एक मंदिर हैं, जहां पर भक्त लोग दर्शन करते हैं।

To Top