भ्रष्टाचार में भारत है 76वें स्थान पर, डेनमार्क सबसे नीचे

0
336

भ्रष्टाचार से सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया परेशान है। पूरी दुनिया में कुछ ही देश ऐसे हैं जिनमें भ्रष्टाचार ना के बराबर है, लेकिन दुनिया के अधिकतर देश इस करप्शन नाम की बीमारी की चपेट में हैं। कौन सा देश करप्शन के मामले में किस स्थान पर है, इस बात का पता लगाने के लिए ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल नाम की एक संस्था ने पूरी दुनिया के 167 देशों की एक लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में सबसे ज्यादा करप्ट देश से लेकर सबसे कम करप्ट देश तक को रैंकिंग दी गई है।

‘ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल’ करप्शन के विरुद्ध काम करने वाली एक संस्था है। ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के अनुसार नॉर्थ कोरिया और सोमालिया जैसे देश करप्शन के मामले में नंबर 1 पर हैं। यहां करप्शन दुनिया में सबसे ज्यादा है। इस लिस्ट में भारत का स्थान 76वां है, जबकि करप्शन परसेप्शन इंडेक्स में डेनमार्क का नाम सबसे निचले पायदान पर है। दुनिया में डेनमार्क एक ऐसा देश है जहां करप्शन सबसे कम है।

1Image Source: http://i9.dainikbhaskar.com/

इस लिस्ट में मात्र 38 नंबर के साथ भारत 76वें स्थान पर है। वहीं, डेनमार्क को सबसे अधिक 91 अंक मिले हैं। यहां पूरे विश्व में सबसे कम करप्शन है, जबकि नार्थ कोरिया और सोमालिया जैसे देशों को 8 अंक मिले हैं।

भारत पिछली बार 38 अंक के साथ इस लिस्ट में 85वें स्थान पर था, लेकिन इस बार 76 वें स्थान पर है। साल 2014 में यह करप्शन परसेप्शन इंडेक्स 175 देशों के लिए जारी हुआ था, लेकिन इस बार यह संख्या 167 देशों तक ही रह गई है।

2Image Source: http://img01.ibnlive.in/

इस लिस्ट में वेस्ट यूरोप के देश और यूरोपियन यूनियन देशों के औसत नंबर सबसे अधिक 67 रहे। अमेरिका 40, एशिया पैसिफिक 43, नार्थ अफ्रीका और मिडल ईस्ट 39 पर हैं। सहारा अफ्रीका, ईस्टर्न यूरोप और सेंट्रल एशिया के देशों को औसत 33 अंक प्राप्त हुए हैं।

करप्शन परसेप्शन इंडेक्स से यह पता चला है कि मिस्र, यूनाइटेड किंगडम और सेनेगल जैसे देशों में करप्शन पहले से कम हुआ है, जबकि ऑस्ट्रेलिया स्पेन, टर्की और ब्राजील की स्थिति पहले से ख़राब हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here