“अलीगढ़” में देखिये समलैंगिकता का फैलता जाल

0
425

समलैंगिकता को अपने समाज के अंदर एक घृणित कार्य माना जाता है और समलैंगिक व्यक्ति को धिक्कारा जाता है। ऐसे में आज समलैंगिक रिश्तों पर फिल्म बनाना काफी दिलेरी का काम ही कहा जाएगा और यह दिलेरी दिखाई है हंसल मेहता ने। हंसल मेहता की बनाई फिल्म “अलीगढ़” का ट्रेलर रिलीज हो गया है। यह फिल्म 26 फरवरी को सिनेमाघरों में लगेगी।
जानकारी के लिए बता दें कि हंसल मेहता ने इससे पहले “सिटी लाइट्स” और “शाहिद” जैसी मार्मिक फिल्मों का निर्माण किया है। जिस प्रकार से “शाहिद” फिल्म सच्ची घटना पर आधारित थी, उसी प्रकार से फिल्म “अलीगढ़” भी एक सच्ची घटना पर आधारित फिल्म है।

Video Source: https://www.youtube.com/

क्या है कहानी –

अभी फिल्म की कहानी के बारे में ज्यादा कुछ तो पता नहीं, पर फिर भी ऐसा कहा जा रहा है कि यह फिल्म अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में मराठी पढ़ाने वाले एक प्रोफ़ेसर के जीवन पर आधारित है। असल में इस प्रोफ़ेसर को समलैंगिक रिश्ते रखने के कारण यूनिवर्सिटी से निकाल दिया जाता है और साथ ही समाज से भी इस प्रोफ़ेसर का तिरस्कार कर दिया जाता है। इस फिल्म में मनोज बाजपेयी मुख्य भूमिका में हैं। यह फिल्म बुसान फिल्म फेस्टिवल 2015 में दिखाये जाने के बाद काफी चर्चा में रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here