रमजान विशेष – भारत की इस जगह पर हैं “हजरत मुहम्मद” के हाथों और पैरों के पाक निशान

 

हजरत मुहम्मद को आज कौन नहीं जानता है, पर क्या आप जानते हैं की हजरत मुहम्मद के हाथ तथा पैरों के चिंह भारत में भी हैं? यदि नहीं, तो आज हम रमजान के इस पवित्र महीने में आपको जानकारी दें रहें हैं इस पाक जगह के बारे में, ताकि आप भी इस स्थान के बारे में जान सकें और कभी इस स्थान के आसपास जाएं, तो इस स्थान पर आकर उन पाक निशानों को देख सकें, आइए अब आपको बताते हैं विस्तार से इस बारे में।

image source:

यह पाक स्थान “सैयद सालार मसऊद गाजी” की दरगाह है, यह दरगाह उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में स्थित है और यह काफी प्राचीन तथा मशहूर दरगाह है। इस दरगाह परिसर में ही “कदम रसूल भवन” नामक एक भव्य भवन है, जिसमें हजरत मुहम्मद साहब के पैरों तथा हाथों के निशान मौजूद है। इस दरगाह में आने वाले लोग कदम रसूल भवन से गुजरते हुए हजरत मुहम्मद के इन पाक निशानों को चूमते हुए आगे बढ़ जाते हैं। आपको बता दें कि कदम रसूल भवन का निर्माण आज से करीब 750 वर्ष पूर्व हुआ था और इस भवन में ही पत्थर की एक शिला पर हजरत मुहम्मद के हाथों और पैरों के निशान अंकित हैं।

image source:

बादशाह फिरोज शाह तुगलक 750 वर्ष पहले जब भारत के बहराइच जिले में आएं तब उनके प्रधानमंत्री हसन मेहंदी ने इस “कदम रसूल भवन” का निर्माण कराया था। इसके बाद में फिरोज शाह तुगलक ने इस भवन में अरब से हजरत मुहम्मद साहब के पद चिंहों तथा हाथों के निशानों वाली एक पत्थर की शिला को मंगवा कर स्थापित कराया था। सैयद सालार की इस दरगाह परिसर में एक तालाब भी है, लोगों की मान्यता है कि इस तालाब में स्नान करने से शरीर के सभी कष्ट समाप्त हो जाते हैं।

To Top