रेगिस्तान की जमीन फाड़कर निकल आया 36 फुट का हाथ

 

दुनिया के एक बड़े रेगिस्तान की जमीन फाड़कर किसी हाथ का निकल आना वाकई में आश्चर्यचकित करता है, लोग इसको देखने के लिए काफी दूर-दूर से आते हैं। आपको बता दें कि यह स्थान “अटाकामा रेगिस्‍तान” के नाम से जाना जाता है और यहां पर दूर-दूर तक कोई मानव नहीं रहता। आपको जानकर हैरानी होगी कि यह स्थान 1922 में दुनिया का सबसे सूखा स्थान था। आप यदि कभी अटाकामा रेगिस्‍तान में जाएंगे तो यह हाथ इस निर्जन स्थान की खूबसूरती में चार चांद लगाता नजर आएगा।

Image Source:

असल में 25 वर्ष पहले कुछ लोगों ने इस स्थान पर किसी कलाकृति को बनाने के बारे में सोचा और उन्होंने अटाकामा रेगिस्‍तान नामक इस स्थान पर जमीन से निकलते हुए एक हाथ को कलाकृति के रूप में बना दिया। यह हाथ 36 फुट का है, जोकि मानव द्वारा निर्मित है। पेन अमेरिका हाईवे से आप इस हाथ को देख सकते हैं। अटाकामा रेगिस्‍तान कई सौ मील में फैला हुआ और यह दुनिया का सबसे सूखा हुआ स्थान माना जाता है। इसको “मैनो डेल डेजेर्टो” के नाम से भी जाना जाता है। आपको बता दें कि उरुग्‍वे नामक स्थान पर भी कुछ इसी प्रकार का हाथ बनाया गया है जो कि रेत को अपनी मुट्ठी में बंद करने की कोशिश करता नजर आता है। इसको “पुंटा डेल एस्‍ता” के नाम से जाना जाता है।

To Top