तीन भारतीयों को ऑस्ट्रेलिया का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारतीय हमेशा से ही अपने विरले काम के लिए दुनियाभर में मशहूर हैं। काम को करने के प्रति भारतीयों की लग्न के कारण ही उन्हें दुनिया के सभी देशों में सराहा जाता है। ऑस्ट्रेलिया में भारतीय मूल के तीन व्यक्तियों को वहां के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजा गया है। इस सम्मान के लिए इस वर्ष ऑस्ट्रेलिया दिवस में करीब 600 लोगों के नामों को शामिल किया गया था, जिनमें से तीन भारतीय मूल के व्यक्ति थे।

ऑस्ट्रेलिया दिवस के दौरान सम्मान पाने के हकदार लोगों को पुरस्कार दिया जाता है। इस बार वर्ष 2016 के लिए सर्वोच्च नागरिक सम्मान ऑर्डर ऑफ ऑस्ट्रेलिया के लिए भारतीय मूल के तीन व्यक्तियों का चयन किया गया। ऑस्ट्रेलिया दिवस के दौरान इन तीनों के नाम की घोषणा करते हुए उन्हें यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान प्रदान किया गया।

1Image Source: http://static.abplive.in/

इसमें न्यू साउथ वेल्स में रहने वाले नेत्र चिकित्सक जय चंद्रा, ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रीय विश्वविद्यालय में काम करने वाले प्रोफेसर चेन्नुपति जगदीश और मेलबर्न में रहने वाले दांतों के चिकित्सक संजीव कोशी को यह सम्मान को दिया गया। यह तीनों ही भारतीय मूल के हैं।

वेस्टमेड अस्पताल के विटरियोरेटिनल सर्जरी विभाग के प्रमुख नेत्र चिकित्सक जय चंद्रा को उनके बेहतरीन कार्यों के लिए इस सम्मान से नवाजा गया। इस मौके पर डॉ. जय चंद्रा ने कहा कि सम्मान पाकर बेहद खुश हूं। विशेषज्ञता पाने वाले क्षेत्र में सफलता पाना मुश्किल था, परन्तु ईश्वर ने मेरा साथ दिया।

5Image Source: https://s3-ap-southeast-1.amazonaws.com/

वहीं, राष्ट्रीय ऑस्ट्रेलियाई विश्वविद्यालय में काम करने वाले भौतिक विज्ञान के प्रोफेसर चेन्नुपति जगदीश को इंजीनियरिंग और भौतिक विज्ञान में उनके दिए योगदान के लिए इस सम्मान से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रोफेसर जगदीश ने कहा कि 25 वर्षों की मेरी रिसर्च के लिए यह सम्मान बेहद अद्भुत है।

इसके अलावा मेलबर्न में रहने वाले दांतों के चिकित्सक संजीव कोशी को भी उनके चिकित्सा के क्षेत्र में किए कार्यों के लिए सम्मान से नवाजा गया। ऑस्ट्रेलिया में मानवीय मिशनों और समाज में लोगों की भलाई के लिए कार्य करने वालों को यह पुरस्कार हर वर्ष दिया जाता है।

To Top