ऐश्वर्या निभा सकती हैं विश्व की सबसे सुन्दर महारानी का किरदार

विद्युत जमवाल और अजय देवगन फिल्म बादशाहों में मुख्य भूमिका में नज़र आने वाले हैं। यह फिल्म सन् 1975-77 में देश में चल रहे आपातकाल के दौर की कहानी है। ख़बरों के मुताबिक अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन इस फिल्म में जयपुर की महारानी गायत्री देवी के जीवन से प्रेरित भूमिका निभाएंगी। उम्मीद जताई जा रही है कि इस साल के बीच में फिल्म बादशाहो की शूटिंग शुरू होगी।

महारानी गायत्री देवी कई मायनों में ख़ास थीं। उन्होंने अपने जीवन में काफी कुछ हासिल भी किया था। जिस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल लागू किया, गायत्री देवी ने इस बात का पुरजोर विरोध किया था।

इस घटना के बाद उन्हें कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा था, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं–

jaipur-2_1460573785Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/
  • प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने राजघराने की संपत्ति व आय पर आयकर विभाग से छापा पड़वाया।
  • इस काम में सेना की मदद भी ली गई, जिसके बाद उनके राजस्थान के पैलेस में छिपे हुए खजाने को ढूंढ़ने के लिए आयकर विभाग द्वारा खुदाई करवाई गई। तीन महीनों के बाद इस काम को रोका गया।
  • बताया जाता है कि सेना की गाड़ियों से हाइवे पर जाम लग गया था।
  • इसके बाद तीन दिनों तक दिल्ली-जयपुर हाईवे बंद भी रहा।
  • इस दौरान ऐसी भी अफवाहें उड़ी कि इन गाड़ियों में सोना भरा है।
  • इतना ही नहीं गायत्री देवी को इस पूरे मामले के चलते तिहाड़ जेल भी जाना पड़ा। इस बात का ज़िक्र गायत्री देवी की आत्मकथा ‘अ प्रिंसेस रिमेंबर्स’ में भी किया गया है।

जानें महारानी गायत्री देवी के जीवन से जुड़ी कुछ अन्य बातें –

jaipur-3_1460573785Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/
  • गायत्री देवी लन्दन में जन्मी थीं, उनका नाम बचपन में आयशा था।
  • उनकी मां का नाम इंदिरा राजे व पिता का नाम जीतेन्द्र नारायण था।
  • गायत्री देवी की शिक्षा स्विटज़रलैंड और लंदन में पूरी हुई थी।
  • महज 12 वर्ष की आयु में उन्होंने बघेरे का शिकार किया था।
  • वह इतनी ज्यादा खूबसूरत थीं कि उस समय वोग मैगज़ीन ने उन्हें विश्व की दस सबसे सुन्दर महिलाओं की लिस्ट में शामिल किया था।
  • 9 मई 1940 को उनकी शादी जयपुर के महाराज सवाई मानसिंह द्वितीय के साथ हुई थी। वह महाराज की तीसरी पत्नी थीं।
imageImage Source :http://i9.dainikbhaskar.com/
  • बाद में गायत्री देवी को राजमाता की उपाधि दी गई थी।
  • साल 1962 में उन्होंने जयपुर की लोकसभा सीट के लिए चुनाव लड़ा, यहां उन्हें कुल दो लाख 46 हजार 516 वोटों में से एक लाख 92 हजार 909 वोट प्राप्त हुए। उन्होंने चुनाव में रिकॉर्ड तोड़ जीत दर्ज की थी।
To Top