सरहद पार से क्यों आ रहे आई लव यू के गुब्बारे

0
407

26 जनवरी को सीमा पार से राजस्थान के बाड़मेर में आए गुब्बारों की गुत्थी अभी तक सुलझी नहीं थी कि फिर से सरहद पार से हिंदुस्तान के आसमान में आई लव यू लिखे गुब्बारे आने का सिलसिला जारी हो गया है। इन गुब्बारों का गुच्छा बाड़मेर जिले के रामसर थाना क्षेत्र के गडरिया गांव में गिर गया। इन गुब्बारों को देखकर पहली नजर में यह साफ हो रहा है कि यह जश्न के गुब्बारे हैं जो कि पाकिस्तान की ओर से बहती हवाओं के साथ बाड़मेर पहुंच गए हैं।

ऐसे में सवाल अहम इसलिए हो जाता है कि क्या गुब्बारों का ऐसे आना महज एक संयोग है? क्या जश्न के गुब्बारों को किसी साजिश से जोड़ना ठीक है? दरअसल बाड़मेर जिले के रामसर थाना क्षेत्र के गडरिया गांव में जहां यह गुब्बारे गिरे हैं वह भारत पाकिस्तान सीमा से 22 किलोमीटर दूर है। देश की सुरक्षा की दृष्टि से यह इलाका काफी संवेदनशील है। ऐसे में किसी भी तरह की गतिविधि को हल्के में लेना ठीक नहीं है। यही वजह है कि पुलिस इसकी काफी बारीकी से जांच भी कर रही है।

GGG

हालांकि पाकिस्तान से आए इन गुब्बारों को लेकर साजिश के सवाल कुछ इसलिए भी उठ रहे हैं क्योंकि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर बाड़मेर में चार गुब्बारे बिना इजाजत सरहद पार से आ गए थे। जिनको सुकोई ने मार गिराया था। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों को इन बैलून से कोई खतरनाक चीज तो नहीं मिली, लेकिन फिर भी इस मामले को हल्के में नहीं लिया जा सकता। वैसे बता दें कि भारत सरकार ने अब इस मामले को सचिव स्तर की बातचीत में उठाने का फैसला किया है। वहीं, ऐसे मामले को लेकर सुरक्षा एजेंसियां भी काफी अलर्ट हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here