_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/12/","Post":"http://wahgazab.com/consequences-for-working-overtime-got-serious-lost-job/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/consequences-for-working-overtime-got-serious-lost-job/consequences-for-working-overtime-got-serious-lost-job-cover/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

रमजान मुबारक – जानिए रमजान के पवित्र माह से जुड़े ये रोचक तथ्य

 

रमजान का पवित्र महीना शुरू हो गया है जिसको इबादत और दुआओं का महीना भी कहा जाता है। आपको बताए दें कि इस्लामिक कैलेंडर के हिसाब से रमजान का यह पवित्र माह नवां महीना होता है जो कि नए चांद से शुरू होता है। इस पूरे माह रोजेदार रोजे रख कर इबादत और दुआओं में ही अपना दिन गुजारते हैं। नए चांद के साथ शुरू हुए यह रोजे 29 अथवा 30 दिन बाद नए चांद पर ही खत्म होते हैं, पर रमजान को लेकर अलग-अलग देशों में भिन्न-भिन्न परंपराएं हैं, जिनको आज बहुत कम लोग ही जानते हैं इसलिए आज हम आपको इन अलग-अलग परंपराओं से ही रूबरू करा रहें हैं, तो आइए जानते हैं रमजान से जुड़े कुछ रोचक तथ्य।

1 – रमजान के चौथे दिन को पश्चिमी एशिया में “गारांगाओ” त्योहार के रूप में शुरू किया जाता है। इस दिन छोटे बच्चे अपने साथ में थैले लेकर निकलते हैं तथा “गारांगाओ गीत” गाकर लोगों से टॉफी तथा अन्य उपहार लेते हैं।

2 – रमजान का पवित्र महीना प्रारम्भ होने से पहले इंडोनेशिया के कुछ हिस्सों में लोग खुद को साफ पानी में जलमग्न कर लेते हैं ताकि वे शारीरिक और मानसिक रूप से शुद्ध हो सकें।

image source:

3 – रमजान के इस पवित्र माह में मिस्र के बाजारों में लोग बड़ी-बड़ी लालटेन लगा कर सड़कों को सजाते हैं, क्योकि ऐसा माना जाता है कि मिस्र के खलीफा का स्वागत राजधानी काहिरा में लालटेन लगा कर किया जाता है।

4 – रमजान के महीने के बारे में मान्यता यह है कि इस दौरान जन्नत के दरवाजे खुल जाते हैं तथा दोजख के दरवाजे बंद कर दिए जाते हैं। इस माह में अच्छे कार्यों का फल भी कई गुना बढ़कर मिलता है इसलिए इस माह में अच्छे कार्य करने की सलाह दी जाती है।

5 – रमजान शब्द को कई लोग जानते भी नहीं हैं रमजान शब्द अरबी भाषा के रमादान शब्‍द से बना है और रमादान शब्द “रमाधा” से बना है जिसका अर्थ होता है “सूरज की गर्मी” |

Most Popular

To Top