_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/03/","Post":"http://wahgazab.com/peope-get-trained-for-suicide-and-they-sleep-in-the-graves-before-death/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/every-wish-granted-here-at-this-temple-after-hitting-a-stone/6-24/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

आज का इतिहास- मुगल बादशाह औरंगजेब का हुआ था निधन

भारत के इतिहास में 3 मार्च का दिन काफी महत्वपूर्ण है। इस दिन सन् 1707 में छठें मुगल बादशाह औरंगजेब का निधन हुआ था। जब औरंगजेब की मृत्यु हुई तो मुगल साम्राज्य की कमान बहादुरशाह प्रथम के हाथों में आ गई थी। औरंगजेब ने 50 वर्ष तक भारत पर राज़ किया था।

1Image Source: http://cdn.historydiscussion.net/

औरंगजेब का शासनकाल 1658 से 1707 तक रहा। औरंगजेब एक ऐसे मुगल बादशाह थे जिसने अकबर के बाद सबसे ज्यादा समय तक राज किया था। जब तक औरंगजेब के हाथों में शासन की कमान थी तब तक उसने दक्षिणी भारत में मुगल साम्राज्य का काफी विस्तार कर दिया था, लेकिन उनकी मृत्यु के बाद मुगल साम्राज्य सिकुड़ने लगा।

भारत और विश्व के इतिहास में 03 मार्च हुई कुछ अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं-

1575- मुगल बादशाह अकबर ने तुकारोई के जंग में बंगाल की सेना को परास्त किया।
1839- टाटा समूह के संस्थापक जमशेदजी टाटा का जन्म हुआ।
1919- मराठी भाषा के सुप्रसिद्ध लेखक हरिनारायण आप्टे का निधन।
1980- पियरे त्रिदियू ने दूसरी बार कनाडा के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।

imageImage Source: http://www.ctvnews.ca/

1983- सातवां गुटनिरपेक्ष सम्मेलन नयी दिल्ली में संपन्न हुआ।
1992- तुर्की के कोयला खदान में गैस विस्फोट में 263 मरे।
2012- पोलैंड में दो ट्रेनों की टक्कर में 16 लोगों की मौत, 50 घायल।
2013- पाकिस्तान के कराची में बम विस्फोट से 45 लोगों की मौत।

Most Popular

To Top