अब लोगों को गर्मी से राहत देगी सरकार

अब तक सरकार आम जनता को बिजली बिल की ज्यादा मार से बचाने के लिए एलईडी बल्ब बांटने का काम कर रही थी, लेकिन आपको जानकर खुशी होगी कि इस बार गर्मियों में सरकार ने आम जनता को बिजली बिल से राहत के साथ गर्मी से भी राहत देने का मन बना लिया है। दरअसल विद्युत मंत्रालय ने एलईडी बल्ब की स्कीम के बाद अब लोगों को गरमी में सस्ते पंखे देने का प्लान बनाया है।

इस स्कीम से आम जनता को तो राहत मिलेगी ही साथ ही सरकार को भी फायदा होगा, क्योंकि सरकार ने जिन पंखों को बांटने की योजना बनाई है वो ना सिर्फ सस्ते होंगे बल्कि बिजली की खपत को भी काफी कम करेंगे। जिससे आम लोगों को बिजली बिल में भी राहत मिलेगी, साथ ही सरकार को भी फायदा होगा। विद्युत मंत्री पीयूष गोयल ने इस योजना के सफल होने की उम्मीद करते हुए कहा है कि- जैसे हमारी एलईडी बल्ब वाली योजना सफल हुई है, ऐसे में उम्मीद है कि सरकार की सस्ते पंखे बांटने की योजना भी सफल होगी। जिससे उपभोक्ता के साथ देश को भी लाभ होगा।

goyalImage Source: http://www.livemint.com/

बता दें कि डोमेस्टिक एफीशियंट लाइटिंग प्रोग्राम के तहत अब तक करीब 7 करोड़ बल्ब जनता को बांटे जा चुके हैं। जिससे रोजाना करीबन 2,085 मेगावॉट बिजली की खपत होती है। साथ ही सरकार को भी रोजाना 2.4 करोड़ रुपये का फायदा हो रहा है। जैसा कि आप सबको पता होगा कि यह बल्ब आम जनता को काफी सस्ते में यानि कि मंत्रालय की एजेंसी EESL की तरफ से 73 रुपये में मिलते हैं। जिसकी बाजारों में कीमत 310 रुपये है।

1Image Source: http://www.thehindubusinessline.com/

इस स्कीम के तहत बता दें कि विद्युत मंत्रालय की एजेंसी EESL ने आंध्र प्रदेश में दो काफी प्रतिष्ठित नामी कंपनियों को एक लाख पंखे बनाने का टेंडर सौंपा है। जिसमें उपभोक्ताओं को फाइव-स्टार रेटिंग वाले पंखे 950 रुपये में बांटे जायेंगे, जो कि 50 वॉट की खपत वाले होंगे। जिनकी बाजारों में कीमत 1700-1800 रुपये है। वहीं, बिना स्टार रेटिंग वाले 800-900 रुपये कीमत पर पर लोगों को मिलेंगे जो कि 80 वॉट के होंगे। इससे उपभोक्ताओं को करीबन 150 यूनिट की बचत होगी। ऐसे में अगर आप 5 रुपये प्रति यूनिट की दर से हिसाब लगाकर देखेंगे तो हर साल उपभोक्ताओं को कम से कम 750 रुपये का फायदा होगा।

To Top