आज का इतिहास- महान भौतिकशास्त्री आइजैक न्यूटन का निधन

0
533

31 मार्च के दिन विश्व के इतिहास में कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी थीं। आज ही के दिन सन् 1727 में महान भौतिकशास्त्री आइजैक न्यूटन का लंदन में निधन हुआ था। जब उनका निधन हुआ था उस समय वो 84 वर्ष के थे। आइजैक न्यूटन ने ही गति के सिद्धांत और गुरुत्वाकर्षण के नियम की खोज की थी। आइजैक न्यूटन एक महान भौतिकशास्त्री होने के साथ-साथ एक महान ज्योतिष, दार्शनिक और गणितज्ञ भी थे।

photoImage Source :https://yt3.ggpht.com/

सन् 1687 में उनकी एक पुस्तक प्रकाशित हुई थी, जिसे विज्ञान के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण व प्रभावशाली पुस्तक का दर्जा दिया गया था। उस पुस्तक का नाम फिलोसोफी नेचुरेलिस प्रिन्सिपिया मेथेमेटिका है।

न्यूटन के जीवन की अगर बात करें तो उन्हें अपने जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा था। जब भी कोई गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत के बारे में बात करता है तो हर किसी की जुबान पर इससे जुड़ी एक कहानी जरूर होती है। जिसके विषय में कहा जाता है कि स्वयं न्यूटन इस कहानी को कहा करते थे कि एक पेड़ से गिरते सेब को देख कर ही मैं गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत को खोजने के लिए प्रेरित हुआ था।

31 मार्च को विश्व में हुई कुछ अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं-

1727- महान भौतिकशास्त्री आइजैक न्यूटन का 84 वर्ष की आयु में लंदन में निधन।

1774- भारत में डाक सेवा शुरू, पहला डाकघर खुला।

1867- मुंबई में प्रार्थना समाज की स्थापना हुई।

1870- अमेरिका में पहली बार किसी अश्वेत नागरिक ने वोट दिया।

1889- पेरिस का मशहूर एफिल टावर आधिकारिक तौर पर खुला।

1917- अमेरिका ने 25 मिलियन डॉलर में डेनिश वेस्ट इंडीज खरीदा और उसका नाम वर्जिन आइलैंड रखा।

Danish-West-Indies-in-StImage Source :http://3.bp.blogspot.com/

1946- द्वितीय विश्व युद्ध के बाद यूनान में पहली बार मतदान हुआ।

1959- तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा को भारत में राजनीतिक शरण मिली।

1964- मुंबई में अंतिम बार इलेक्ट्रिक ट्राम चली।

1966- सोवियत रूस ने पहला चंद्रयान लूना 10 लांच किया।

1979- माल्टा ने ब्रिटेन से स्वतंत्रता की घोषणा की ।

1983- कोलम्बिया में भूकंप से लगभग 5000 लोग मरे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here