468 प्रजातियों की चिड़ियां पाली हुई है इस साधु ने, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में है नाम दर्ज

साधु

 

आपने कई प्रकार के साधु महात्मा देखें होंगे, पर क्या आपने कभी किसी ऐसे साधु को देखा है जिसका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो? यदि नहीं, तो आज हम आपको एक ऐसे ही साधु के बारे में जानकारी दे रहें हैं जिसका नाम ” गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड” में दर्ज है। आपको बता दें कि इस साधु का नाम इसलिए गिनीज बुक में दर्ज है क्योंकि इसने चिड़ियों का संरक्षण बड़े लेवल पर किया है और चिड़ियों की कई प्रजातियों को लुप्त होने से बचाया है।

साधु

Image Source:

आपको बता दें कि इस साधु का नाम “डॉक्टर गणपति सच्चिदानंद स्वामीजी” है। सच्चिदानंद स्वामीजी मैसूर स्थित “अवधूत दत्ता पीतम आश्रम” के संस्थापक भी हैं। सच्चिदानंद स्वामीजी ने अपने सारे जीवन को चिड़ियों को समर्पित कर दिया है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की मानें तो स्वामी जी ने 468 प्रजातियों की 2100 चिड़ियों को अपने आश्रम में पाला हुआ है। स्वामी जी ने दुनिया भर में घूम-घूम कर चिड़ियों का संरक्षण किया है। वर्तमान में स्वामी जी ने 21 एकड़ में चिड़ियों के लिए एक चिड़िया घर भी बनाया हुआ है। चिड़ियों के संरक्षण की बात स्वामी के मन में कहां से आई इस बारे में स्वामी जी बताते हैं कि एक बार वे वेनेजुएला के एंजल फॉल घूमने के लिए गए थे और वहां अचानक उनका पैर फिसल गया जिसके बाद में वे करीब 100 मीटर नीचे गिर गए। स्वामी जी बताते हैं कि जब उनको होश आया तो उन्होंने देखा कि उनके आसपास में 100 से ज्यादा चिड़ियां बैठी हुई हैं। बस वहीं से स्वामी जी ने चिड़ियों के संरक्षण का कार्य करने का मन बनाया और अपने आश्रम में आकर उन्होंने इस कार्य को गति दे दी। वर्तमान में स्वामी जी का आश्रम चिड़ियों के ऊपर रिसर्च करने वाले लोगों के लिए एक खास जगह बन गया है।

To Top