_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/03/","Post":"http://wahgazab.com/peope-get-trained-for-suicide-and-they-sleep-in-the-graves-before-death/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/every-wish-granted-here-at-this-temple-after-hitting-a-stone/6-24/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

रहस्यमयी झील- इस झील का रंग आम झीलों से हटकर है जानें इसका रहस्य

ऐसे तो दुनिया में कई अजीबोगरीब चीजे हैं, जिन्हें देखकर हम हैरान हो जाते हैं, लेकिन वह ऐसी क्यों हैं, इसका जवाब ढूंढ पाना जरा मुश्किल होता है। ठीक हर एक अजूबे की तरह हम आपको एक नए अजूबे के बारे में बताने जा रहें हैं। दरअसल यह अजूबा है ऑस्ट्रेलिया की एक ऐसी झील, जिसका रंग आम झीलों से अलग होकर गुलाबी रंग का है। इस झील को गुलाबी झील के नाम से भी जाना जाता है। इस झील का नाम असल में सलीना दे टोरेवियेजा है।

ऑस्ट्रेलिया ऐसे अपने “ग्रेट बैरियर रीफ” की वजह से दुनिया में प्रसिद्ध है, लेकिन यहां पर स्थित हिलर लेक पर्यटक को अपनी तरफ आकर्षित करती है। इतना ही नहीं यह झील दूसरी झीलों से भी काफी छोटी सी है। इस झील में नमक की मात्रा काफी ज्यादा है। यह झील सूरज के प्रकाश के अनुसार अपना रंग बदलती है।

lake-hillierlake-in-western-australia-australiapink-lake-western-australia1Image Source:

यह झील चारों ओर से यूकेलिप्टस और पेपरबार्क के पेड़ से घिरी हुई है। इस झील के गुलाबी रंग के पीछे बैक्टीरिया और एल्गी कारण है, हालांकि बैक्टीरिया और एल्गी होने के कारण भी यह इंसानों को नुकसान नहीं पहुंचाता है। इस झील में नमक की मात्रा ज्यादा है जिसमें आसानी से तैराकी भी की जा सकती है। इस झील का रंग स्ट्रॉबैरी दूध की तरह दिखाई देता है।

lake-hillierlake-in-western-australia-australiapink-lake-western-australia2Image Source:

बता दें कि इस झील का पता वर्ष 1802 में मैथ्यू फ्लिंडर्स जो कि एक अन्वेषक थे, उनके द्वारा किया गया था।

Most Popular

To Top