25 सालों पहले गुम हुआ ये बच्चा आज विदेशी बन लौटा अपने देश

अक्सर आपने फिल्मों में ऐसे कई किस्से और कहानियां जरूर देखें होंगे, जिसमें बचपन में गुम हुआ बच्चा कई सालों के बाद अचानक अपने घर वापस आ जाता है। फिल्म की ये कहानी एक व्यक्ति की जिंदगी में घटित हुई है। आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में रहने वाला एक पांच वर्षीय बच्चा अपने घर से बिछड़ कर परदेश चला गया था, लेकिन 25 सालों बाद वह अचानक फिर से अपनी मां के पास वापस लौट आया। अपने देश में पैदा हुआ यह बच्चा खो जाने के बाद ऑस्ट्रेलिया पहुंच जाता है, फिर जो हुआ वह वाकई किसी फिल्मी कहानी जैसा है.

आखिर कौन है बच्चा?
आज इस बच्चे का नाम सरू है। सरू नाम के इस लड़के का असली नाम शेरू मुंशी खान है और यह मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के गणेश तिलाई इलाके में पैदा हुआ था। पिता के घर छोड़ देने के कारण घर के हालात बहुत खराब थे। घर में तीन भाई-बहन होने के चलते एक वक्त की रोटी का जुगाड़ कर पाना भी मुश्किल था। जिसके चलते यह अपने भाई के साथ रेलवे स्टेशन पर भीख मांगने लगा। एक बार रोज की तरह भीख मांगते हुए वह ट्रेन में ही सो गया और खो गया।

image source : 

सरू पहुंच गया हावड़ा
ट्रेन में सोए हुए इस बच्चे की जब नींद टूटी तब तक वह अपने शहर से 1500 किलोमीटर दूर हावड़ा स्टेशन पहुंच चुका था। जहां पर उसे कई तरह के खराब लोग मिले इन सबसे बचते हुए वह ऐसे दो लड़को के संपर्क आया, जिन्होनें उसे सरकारी अनाथालय तक पहुंचा दिया।

यहीं से बदली किस्मत
इस अनाथालय में पहुंचने के बाद ऑस्ट्रेलिया में रहने वाला एक जोड़ा भारत आया और गोद लेने वाली इस संस्था से संपर्क किया और वे सरू को अपने साथ (कैनबरा) ऑस्ट्रेलिया ले गए। वहां पर जाकर उन्होंने इसकी काफी अच्छी तरीके से देखभाल कि उसकी पढ़ाई के लिए उसका एडमिशन करा दिया। जहां पर रहकर उसने बिजनेस व हॉस्पिटैलिटी की पढ़ाई भी की है।

सरू वहां से अपने परिवार को खोजते रहा
5 साल की उम्र से लेकर 25 साल की उम्र हो जाने के बाद भी सुरू अपनी धरती की खुशबू के नहीं भूल पाया और वह लगातार अपने गांव को गूगल पर सर्च करता रहा। इसके बाद उसने गूगल अर्थ से अपने घर के आसपास के क्षेत्र को वहां के लोगों के ग्रुप्स को फेसबुक पर सर्च करना शुरू किया। आखिरकार एक दिन उसने सफलता पा ही ली और वह अपने देश वापस आ गया।

ऑस्ट्रेलिया से भारत वापस आने पर उसने अपनी पुरानी फोटों के द्वारा खंडवा के लोगों से पूछताछ की जिससे उसे अपने घर का पता मिल गया। अपने घर के बाद वो अपनी मां से मिला। जो एक सफाई कर्मी का काम करती हैं, बचपन में गुम हुए सुरू के घर आ जाने के बाद उसने सबसे पहले अपनी मां का काम छुड़वाकर झोपड़ी से मां को एक बड़े घर में शिफ्ट करवा दिया। इनकी अद्भुत कहानी के विषय पर एक किताब “A Long Way Home” भी लिखी जा चुकी है, जिस पर उनकी जिंदगी से अधारित एक फिल्म भी बनने वाली है। इस फिल्म में हॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस निकोल किडमैन और स्लमडॉड मिलेनियर फेम स्टार देव पटेल अहम भूमिका निभाएंगे।

To Top