हैंडपम्प के पानी से नहाना पड़ा भारी, हो गए गंजे

0
332

देश में भूमिगत जल ही साफ पानी का मुख्य स्त्रोत है। इसके अलावा नदियों के जल से भी लोगों के जल की आवश्यकताएं पूरी होती हैं जबकि गांव व देहातों सहित शहरी इलाकों में भी कई लोग भूमिगत जल के सहारे ही अपनी पानी की जरूरतों को पूरा करते हैं, लेकिन अब इस भूमिगत जल को इस्तेमाल करने से पहले आपको थोड़ी सावधानी बरतने की बेहद आवश्यकता है। बिहार के मधुबनी जिले में एक परिवार ने हैंडपम्प के पानी से नहाया और शाम होते होते पूरा परिवार गंजा हो गया। इस तरह की घटना पूरे क्षेत्र में कौतूहल का विषय बन गई। इतना ही नहीं लोगों ने अपने-अपने हैंडपम्प के पानी को इस्तेमाल करना भी बंद कर दिया।

देश में आज भी गांव व दूर दराज के इलाकों में पानी का मुख्य स्त्रोत भूमिगत जल ही है। भूमिगत जल चाहे कुंए का हो, हैंडपम्प का हो या फिर समरसेबल का, सभी को भूमि से ही प्राप्त किया जाता है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार के मधुबनी जिले के लदनिंया के नाथपट्टी गांव में हैंडपम्प के पानी से नहाने से पूरा परिवार गंजा हो गया। सुबह स्नान करने पर इस परिवार के चार लोग शाम तक पूर्ण रूप से गंजे हो गए। इस घटना का शिकार होने वालों में परिवार के मुखिया, उनकी पत्नी, बेटी और पुत्र शामिल हैं। इस घटना से पूरे गांव में दहशत फैल गई। जिसे भी इस घटना की जानकारी हुई उसने अपने घर के हैंडपम्प से पानी लेना ही छोड़ दिया।

1Image Source: http://rajasthanpatrika.patrika.com/

पीड़ित परिवार के मुताबिक चारों सदस्यों ने हर दिन की तरह ही स्नान करने के लिए हैंडपम्प के पानी का प्रयोग किया था। थोड़ी देर के बाद सिर के सभी के बाल आपस में पूरी तरह चिपके और उसे मात्र छूने तक से बाल हाथों में आने लग गए। शाम होने पर सिर से सारे बाल गिर गए। इस घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासन भी सक्रिय हो गया और प्रशासन की टीम ने हैंडपम्प को सील करके उसके पानी के नूमने जांच के लिए ले लिए। जिससे इस घटना के पीछे के सही कारणों का पता लगाया जा सके। फिलहाल प्रशासन द्वारा लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here