एक दिन, एक जनपद और हजारों नौकरियां, बना नया रिकॉर्ड

जहां आज देश में नौकरियों की भारी कमी है, सभी लोग प्राईवेट और सरकारी नौकरियों को पाने की होड़ में लगे हुए हैं वहीं उत्तर प्रदेश के एक जनपद ने नया रिकॉर्ड कायम किया है। यह रिकॉर्ड लोगों को नौकरियां देने का है। प्रदेश के गोंडा जिले में एक दिन में 47000 ग्रामीण रोजगार प्रदान करने का नया रिकॉर्ड बनाया गया है। यह अपने तरीके का पहला रिकॉर्ड है।

उत्तर प्रदेश के गोंडा में अतंर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस पर एक नया रिकॉर्ड बनाया गया। इस रिकॉर्ड को बनाने वाले गोंडा में अगले दस दिनों के लिए करीब 15 लाख लोगों को रोजगार दिया गया है। दरअसल इस जिले में मनरेगा की 38 करोड़ की रकम बिना किसी इस्तेमाल के लैप्स होने वाली थी। इस योजना के मुताबिक मजदूर दिवस के दिन से ही एक साथ 1054 गांवों में मनरेगा का काम शुरू किया गया।

Job_OpportunitiesImage Source :http://www.chic.research.va.gov/

नए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन के आने के बाद से ही इन सभी योजनाओं का काम शुरू हुआ है। जिलाधिकारी ने अप्रैल के मध्य से ही 1054 गांवों की सभी जिला पंचायतों से विचार विमर्श करके एक मास्टर प्लान बनाया और उसका आदेश एक ही दिन में जारी भी कर दिया। जानकारी के अनुसार एक मई के दिन करीब 92.64 लाख रुपये निर्माण कार्यों पर खर्च किए जा चुके हैं। साथ ही आने वाले दिनों में इस अभियान के तहत करीब 21 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। जिसके दौरान करीब 1357 योजनाओं पर काम किया जाएगा।

जनपद में इस परियोजनाओं के तहत सड़कें बनाना, नहरों की खुदाई करना, हैंडपंप लगवाना, कुओं की मरम्मत, स्कूलों में शौचालयों का निर्माण करना, पंचायतों की चार दीवारी का निर्माण करने के काम को शामिल किया गया है।

To Top