साल 2015 इन बड़े हादसों का बना शिकार

0
305

नया साल अपनी दस्तक दे चुका है। इसके साथ ही जा रही है पुराने साल की कुछ अच्छी तो कुछ दर्द भरी कड़वी यादें, जिन्हें भुलाया नहीं जा सकता है। इस साल देशभर में कई अच्छी, बुरी घटनाएं घटित हुईं। ऐसी ही कुछ घटनाओं को हम यहां आपको बता रहे हैं। भारी बहुमत के साथ केजरीवाल ने दिल्ली की सत्ता संभाली। उसके बाद असहिष्णुता के मुद्दे पर विवाद, दादरीकांड समेत कई घटनाएं वर्ष 2015 में हुईं। आइए डालते हैं इन पर एक नज़र।

जनवरी के शुरूआती दिनों की यदि हम बात करें तो 14 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ न्यूयार्क में एक अमेरिकी संघीय अदालत ने 2002 के गुजरात दंगों को लेकर एक मानवाधिकार समूह के केस को यह कह कर खारिज किया कि एक विदेशी सरकार के वर्तमान प्रमुख होने के कारण उन्हें छूट प्राप्त है।

2015 incidents1Image Source: http://img.patrika.com/

17 जनवरी का दिन हमारे भारतवासियों के लिए खुशखबरी लेकर आया। इस दिन भारतीय वायुसेना के बेड़े में दुनिया का सबसे हल्का माना जाने वाला विमान “तेजस” 32 साल बाद शामिल हुआ।

2015 incidents2Image Source: http://sth.india.com/

10 फरवरी का ऐतिहासिक दिन जब दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) ने 67 सीटों के साथ शानदार जीत दर्ज की। इस भारी बहुमत से मिली जीत के बाद अरविंद केजरीवाल सीएम बनें। इस चुनाव में कांग्रेस का एक भी खाता नहीं खुला, जबकि भाजपा महज 3 सीटों पर सिमट गई।

2015 incidents3Image Source: http://samacharhindi.in/

9 अप्रैल को भारत और फ़्रांस के बीच 20 समझौतों पर हस्ताक्षर हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चार दिवसीय फ्रांस की यात्रा के दौरान दोनों देशों ने रेलवे, स्पेस रिसर्च, परमाणु ऊर्जा, विज्ञान, तकनीकी और मरीन टेक्नोलॉजी क्षेत्रों से संबंधित 20 समझौतों और सहमति-पत्रों पर हस्ताक्षर किए।

2015 incidents4Image Source: http://static.news18.com/

10 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने एसिड अटैक हमले के शिकार लोगों के लिए मुफ्त इलाज का आदेश दिया। भारतीय सर्वोच्च न्यायालय ने 10 अप्रैल 2015 को सभी निजी अस्पतालों को यह निर्देश जारी किया कि वे एसिड अटैक हमले के शिकार लोगों का मुफ्त एवं पूरा इलाज करेंगे।

24 अप्रैल को ‘राइट ऑफ ट्रांसजेंडर पर्सन बिल 2014’ राज्यसभा में पारित हुआ। 24 अप्रैल 2015 को किन्नरों के अधिकारों की रक्षा के लिए राष्ट्रीय नीति बनाने के प्रावधान वाले एक गैर सरकारी विधेयक को पास कर दिया गया। 36 साल बाद राज्यसभा ने किसी निजी विधेयक को पास किया है। इसे डीएमके के सांसद तिरुचि शिवा ने पेश किया था।

2015 incidents5Image Source: http://mayatoday.in/

25 अप्रैल को आए भूकंप के कारण काठमांडू 10 फुट दक्षिण में खिसका। यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैंब्रिज के टेकटॉनिक्स विशेषज्ञ जेम्स जैक्सन ने नेपाल में 25 अप्रैल 2015 को आए विनाशकारी भूकंप के दौरान पैदा होने वाली ध्वनि तरंगों से आंकड़ों का शोध करके रिपोर्ट जारी किया है, जिसमें उन्होंने बताया कि राजधानी काठमांडू 10 फुट (3 मीटर) दक्षिण में खिसक गयी है।

7 मई को संसद द्वारा संविधान विधेयक (119वां संशोधन) पारित किया गया। यह विधेयक भारत को बांग्लादेश के साथ अपने सीमा विवाद को हल करने की अनुमति प्रदान करेगा।

2015 incidents6Image Source: http://1.bp.blogspot.com/

9 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामाजिक सुरक्षा से संबंधित तीन बड़ी योजनाओं की शुरूआत की। जिनके नाम- प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और अटल पेंशन योजना हैं।

2015 incidents7Image Source: http://static.news18.com/

12 मई को नेपाल की धरती फिर हिली। यहां रिक्टर स्केल पर 7.3 की तीव्रता का भूकंप आया, जिससे नेपाल में 153,भारत में 62 और चीन में 1 मौत हुयी।

झारखंड देवघर के बाबा धाम में इसी साल दस अगस्त को भगदड़ मचने से 11 लोगों की मौत हो गई थी। जिसमें 50 से ज्यादा लोग जख्मी हुए थे। सावन के दूसरे सोमवार पर पूजा की होड़ में ये भगदड़ मची थी।

2015 incidents8Image Source: http://inbcn.in/

हज में पिछले 25 साल के दौरान सबसे बड़ा हादसा इस साल सितम्बर माह में हुआ। सऊदी अरब की मक्का मस्जिद में हज के दौरान बकरीद के दिन बड़ा हादसा हो गया था। इस दौरान मची भगदड़ में कम से कम 717 लोगों की मौत हो गई और क़रीब 863 लोग घायल हो गए थे। हज में पिछले 25 साल के दौरान होने वाला यह ये सबसे बड़ा हादसा था।

2015 incidents9Image Source: https://i.ytimg.com

भारत का सबसे कलंकित करने वाला हादसा उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद जिले के दादरी में देखने को मिला। अक्टूबर माह में यहां एक शख्स की सिर्फ इसलिए पीट-पीटकर हत्या कर दी गई क्योंकि उसने गौमांस खाया और उसे अपने घर में रखा। घटना के बाद से क्षेत्र में तनाव फैल गया था।

2015 incidents10Image Source: http://cdn2.img.hindi.sputniknews.com/

पिछले 100 वर्षों की सबसे बड़ी बाढ़ की आपदा उस समय आई जब पूरा चेन्नई शहर बारिश और खराब ड्रेनेज सिस्टम की वजह से बाढ़ में डूब गया। नवंबर महीने में आई इस बाढ़ में 188 से अधिक लोगों की मौत हुई। तमिलनाडु में हुई इस बारिश ने 97 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया था।
इन सब के अलावा असहिष्णुता के मुद्दे पर विवाद, लेखकों के पुरस्‍कार लौटाने, टीपू सुल्तान के जयंती समारोह पर विवाद समेत कई घटनाएं वर्ष 2015 में हुईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here