_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/04/","Post":"http://wahgazab.com/grooms-asks-dowry-in-the-nikah-and-bride-refuses-to-marry-him/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/grooms-asks-dowry-in-the-nikah-and-bride-refuses-to-marry-him/2-370/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

इस नदी के पानी में लगती है आग

आग और पानी दोनों पूरी तरह अलग-अलग हैं। पानी से आग को बुझाया जाता है। कहीं भी आग लगने की स्थिती में हम सबसे पहले पानी को ही तलाश करते हैं। जिससे कि आग पर काबू पाया जा सके, लेकिन आज हम आपको ऐसी चौंकाने वाली बात बताने जा रहे हैं जिसको सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे। ऑस्ट्रेलिया में एक ऐसी नदी है जिसके पानी में आग लग जाती है। जो भी इस बारे में जानता है वो हैरान हो जाता है।

क्या है पूरा मामला-

ऑस्ट्रेलिया के कवींसलैंड में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। इस मामले में क्वींसलैंड की एक नदी में आग लग जाती है। अमूमन हम लोग पानी से आग को बुझाने का काम करते हैं, लेकिन नदी में लगने वाली इस आग को जिसने भी देखा वो हैरान रह गया। इसके पीछे कोई रहस्य नहीं बल्कि पूरा मामला विज्ञान से जुड़ा है। विज्ञान के कुछ नियमों के आधार पर आग को बुझाने के लिए काम में आने वाले पानी में भी आग को लगाया जा सकता है। दरअसल इस नदी के अंदर सैकड़ों की तदात में मीथेन गैस के कुंए हैं। इन कुओं से रिसाव के कारण गैस पानी में मिल रही है और नदी के पानी के ऊपरी सतह पर आकर तैर रही है। आपको बता दें कि यह नदी डार्लिंग नदी का हिस्सा है। इस नदी में मिथेन होने के कारण एक चिंगारी से भी नदी की ऊपरी सतह पर आग लग रही है। यहां के स्थानीय लोगों द्वारा इस समस्या को लेकर गैस निकालने वाली कंपनियों पर गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाने का आरोप लगाया गया है।

Most Popular

To Top