_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/04/","Post":"http://wahgazab.com/19-year-old-boy-loses-his-heart-to-a-72-years-old-lady-got-married/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/19-year-old-boy-loses-his-heart-to-a-72-years-old-lady-got-married/19-yeras/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/905c7908fd211a3f544c0c491b38da5e/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

अंतरिक्ष में पृथ्वी- नंबर 2

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक ऐसा ग्रह खोज निकाला है जो धरती से काफी मिलता जुलता है, इतना ही नहीं नासा के मुताबिक यहां जीवन के विकास के लिए लगभग सारी जरूरी संभावनाएं मौजूद हो सकती हैं, यहां तक कि इस ग्रह पर पानी भी मौजूद हो सकता है। इस नए ग्रह का पता लगाया है अंतरिक्ष में स्थापित नासा की सबसे शक्तिशाली दूरबीन केप्लर ने। इस नए ग्रह का नाम वैज्ञानिकों ने केप्लर 22-B रखा है। केप्लर 22-B हमारी धरती से आकार में लगभग ढाई गुना बड़ा है और सबसे खास बात ये है कि वहां तापमन माइनस में नहीं है, जबकि इससे पहले जितने भी ग्रह वैज्ञानिकों ने तलाशे हैं और जो धरती से मिलते-जुलते हैं वो काफी ठंडे हैं, जहां जीवन की संभावना कम होती है लेकिन केप्लर 22-B में ऐसा नहीं है। वैज्ञानिकों का अनुमान है कि इस नए ग्रह का तापमान 22 डिग्री सेल्सियस तक हो सकता है, अब तक तलाशे गए सभी ग्रहों के मुकाबले ये पृथ्वी से सबसे ज़्यादा मिलता-जुलता माना जा रहा है।

second earth found in space1Image Source: http://ncesse.org/

केप्लर-22-B धरती से 600 प्रकाश वर्ष की दूरी पर है। यहां ज़मीन है और पानी भी हो सकता है। ऐसे में केप्लर 22-B को ‘ पृथ्वी- नंबर 2’ कहें तो ग़लत नहीं होगा। ये ग्रह अब तक वैज्ञानिकों द्वारा खोजे गए दूसरे ग्रहों के मुकाबले धरती से सबसे ज्यादा मिलता-जुलता है। केप्लर 22-B पर ज़मीन और पानी दोनों होने की वजह से जीवन के लिए सभी संभावनाएं मौजूद हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि किसी भी ग्रह पर जीवन की संभावना होने के लिए ये ज़रूरी है कि वो ग्रह अपने मुख्य तारे से एक निश्चित दूरी पर रहे, ताकि वो ना तो ज्यादा गर्म हो और ना ही ज्यादा ठंडा। वैज्ञानिकों ने इसके बारे में जितनी भी जानकारी हासिल की है उसके मुताबिक केप्लर 22-B की अपने मुख्य तारे से जो दूरी है वो जीवन की संभावनाओं की उम्मीद जगाता है। इस ग्रह पर एक साल 290 दिनों का होता है। केप्लर 22-B को वैज्ञानिकों ने पहली बार दो साल पहले देखा था। तब से ही इस ग्रह पर रिसर्च का काम चल रहा था। इस नए ग्रह को मिला कर हमारे सोलर सिस्टम से बाहर अब तीन ऐसे ग्रह हैं जहां वैज्ञानिकों को जीवन की संभावना दिखाई देती है।

second earth found in space2Image Source: http://images2.fanpop.com/

वैज्ञानिकों ने जो जानकारी हासिल की है उसके मुताबिक हमारी धरती अपने सूरज से जितनी दूरी पर है, उसके मुक़ाबले केप्लर 22-B अपने सूरज से लगभग 15 फ़ीसदी नज़दीक़ है। केप्लर 22-B के सूरज में 25 प्रतिशत कम रोशनी है, यही वजह है कि दूसरी धरती यानी केप्लर 22-B का तापमान भी जीवन के लिए सामान्य है।

second earth found in space4Image Source: https://s-media-cache-ak0.pinimg.com
To Top