केरल में लापरवाही ने ली 112 श्रद्धालुओं की जान, 5 हिरासत में

0
322

केरल के पुतिंगल मंदिर में रविवार को आग लगने से मरने वालों की संख्या 112 तक पहुंच गई है। यह आग मंदिर में बिना अनुमति लिए की जा रही आतिशबाजी के दौरान लगी। आतिशबाजी की चिंगारी से पास में पड़े दो सिलेंडरों में आग पकड़ ली, जिस कारण वहां मौजूद लोग भी आग की चपेट में आ गए। इस घटना में करीब 112 लोगों की मौत हो गई जबकि सैकड़ों लोग घायल भी हो गए। यह हादसा इतना भयंकर था कि इससे 200 मीटर दूर तक के लोग चपेट में आ गए। केरल के डीजीपी ने बताया कि आतिशबाजी के लिए जिम्मेदार पांच लोगों को हिरासत में ले लिया गया है।

kollam-kerala-temple-ground-reuters_650x400_81460274168Image Source :http://dc-cdn.s3-ap-southeast-1.amazonaws.com/

प्रधानमंत्री ने घटना पर जताया दुख-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया है। रविवार को सबसे पहले मोदी घटना स्थल पर पहुंचे। वहां का नजारा देख पीएम ने कहा कि मंदिर में हुआ यह हादसा काफी दुखदायक है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार उन परिवारों के साथ है जिन्होंने इस घटना में अपना सब कुछ खो दिया और केरल की जनता के साथ मिलकर उन लोगों की पूरी मदद की जाएगी। मोदी हॉस्पिटल में भी जख्मी लोगों की हालत देखने पहुंचे। इसके अलावा उन्होंने हर मृतक के परिवार को दो-दो लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की। वहीं केरल के सीएम ओमन चांडी ने मृतक परिवारों के लिए 10 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की। उन्होंने प्रत्येक घायल व्यक्ति के लिए दो लाख रुपये और मामूली रूप से घायल व्यक्ति के लिए 50,000 रुपये मुआवजा दिए जाने की बात कही।

modi-kollam-hospitalImage Source :http://images.indianexpress.com/

बचाव और राहत अभियान-

भारतीय नौसेना ने डॉरनियर और मेडिकल यूनिट के साथ 2 एएलएच घटनास्थल पर लगाए। इसके अलावा वायु सेना ने एएलएच और एमआई 7 समेत चार हेलिकॉप्टर्स तैनात किए। कोच्चि में हॉस्पिटल में सर्जिकल टीम और नवल कमांड को अलर्ट किया गया। चेन्नई से एनडीआरएफ की चार टीमों को मौको पर रवाना किया गया।

447776-navy-air-craftImage Source :http://static.dnaindia.com/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here