रिलैक्सो कंपनी ने सांसद गायकवाड़ को बनाया अपना ब्रांड एंबेसेडर, सलमान खान से तोड़ा कॉन्ट्रेक्ट

सांसद गायकवाड़

 

शिवसेना सांसद गायकवाड़ को आप जानते ही होंगे। हवाई जहाज में चप्पल वाली घटना से वे इतने ज्यादा फेमस हो गए हैं कि अब रिलैक्सो कंपनी ने उनको अपना ब्रांड एंबेसेडर बना दिया है। असल में कुछ समय पहले जब शिवसेना सांसद रवीन्द्र गायकवाड़ एयर इंडिया से यात्रा कर रहें थे, तब किसी बात से नाराज होकर उन्होंने एयर इंडिया के कर्मचारी को अपनी चप्पल से पीट दिया था। उनके किए इस महान कार्य का महान फल अब मिल गया है। असल में हुआ यह था कि वे उस घटना से बहुत ज्यादा फेमस हो गए थे और इसलिए ही अब सांसद गायकवाड़ को रिलैक्सो कंपनी ने अपना ब्रांड एंबेसेडर बना दिया है तथा सलमान खान से कॉन्ट्रेक्ट तोड़ दिया है। यहां आपको हम बता दें कि पहले रिलैक्सो कंपनी के ब्रांड एंबेसेडर अभिनेता सलमान खान थे।

सांसद गायकवाड़Image Source:

कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि “देखा जाएं तो सल्लू भाई ने हमारी चप्पलों का कभी सदुपयोग नहीं किया। वे गाड़ी और बंदूक की पब्लिसिटी तो करते हैं, पर हमारी चप्पलों का कभी नाम तक नहीं लेते। सही बात तो ये हैं कि सल्लू भाई ने विज्ञापन में भी हमारी चप्पलों को पहना तक नहीं है।” इसके बाद में सांसद गायकवाड़ तथा मैनेजिंग डायरेक्टर ने एक नए कांट्रेक्ट पर साइन किया। इस अवसर पर मैनेजिंग डायरेक्टर ने कहा कि “सही बात तो यह है कि सांसद गायकवाड़ जी से अच्छा ब्रांड एंबेसेडर हमें मिल ही नहीं सकता क्योंकि जो उड़ते हुए प्लेन में चप्पल चला सकते हों, वह सड़क पर क्यों न चलाएगा और वैसे भी शिव सेना के लोगों में चप्पल जूते चलाने का पुराना हुनर है। हमारी आगे कोशिश यह रहेगी कि भविष्य में शिव सेना के निशान “तीर कमान” का स्थान हमारी “चप्पल” ले ले। जल्द ही हम लोग चप्पलों के गिफ्ट हैम्पर के साथ में उद्धव जी से मीटिंग भी करने वाले हैं और हो सकता है कि…….इसी बीच मंच हंगामा मच गया। असल में सांसद गायकवाड़ जी ने रिलैक्सो चप्पल की मजबूती जांचने के लिए उनकी चप्पल उनके ही किसी कर्मचारी पर बजा दी थी।

विशेष नोट- इस तरह के आलेख से हमारा उद्देश्य केवल आपका मनोरंजन करना है। इसमें मौजूद नाम, संस्था और राजनीतिक पार्टियों की छवि को धूमिल करना हमारा उद्देश्य नहीं है। साथ ही इसमें बताया गया घटनाक्रम मात्र काल्पनिक है। अगर इससे कोई आहत होता है तो हमें बेहद खेद हैं।

To Top