ये हैं सात जन्मों के बंधन के टूटने का कारण

0
492

समय की रफ्तार के साथ आज हमारी जिंदगी भी इसी के पीछे भागती नजर आ रही है और दूर हो रहे हैं आपसी रिश्ते। चाहे फिर वो पारिवारिक रिश्तेदारों के बीच हों या फिर पति-पत्नी के बीच। इस दूरी के बढ़ने का सबसे बड़ा कारण प्यार और विश्वास की कमी है, जिस पर किसी रिश्ते की पूरी बुनियाद टिकी रहती है। कुछ समय पहले तक हमारे देश में तलाक के मामले काफी कम देखे जा रहे थे, पर आज के समय में ऐसे मामलों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। आज हम आपको इस तरह की स्थिति के लगातार बढ़ने के कारणों से अवगत करा रहे हैं कि सात जन्मों तक के लिए बंधे बंधन की डोर आखिर इतनी कमजोर क्यों होती जा रही है।

1Image Source: http://navbharattimes.indiatimes.com/

कारण-

महिलाओं की आत्मनिर्भरता: आज के समय की करीब 75 प्रतिशत लड़कियां पढ़ी लिखी होने के कारण जॉब कर रही हैं। जो आज पूरी तरह से किसी के ऊपर डिपेंड ना हो कर स्वतंत्र रूप से जी रही हैं। हर लड़के की ख्वाहिश भी यही होती है कि उसकी पत्नी पढ़ी लिखी होने के साथ कामकाजी भी हो, पर कहा जाता है ना कि पति-पत्नी के बीच रिश्ते की बुनियाद प्यार और विश्वास पर टिकी होती है। अगर विश्वास ना करके छोटी सी बात को बढ़ा कर तूल बना दिया जाए तो रिश्ते जल्द ही टूटने की कगार पर आ जाते हैं। पति-पत्नी दोनों के कामकाजी होने पर कई बातों को लेकर अक्सर झगड़े होते हैं जैसे कि ऑफिस से देर से लौटना, पत्नी की पेमेंट पति से ज्यादा होना। महिलाएं भी आत्मनिर्भर होने के कारण पति की बातें ज्यादा बर्दाश्त नहीं करती हैं। इन सब को लेकर अक्सर बहस छिड़ जाती है, जिससे रिश्ते में दरार पड़ने लगती है।

2Image Source: http://www.tme.co.il/

एकल परिवार: आज के समय की भागदौड़ के बीच परिवार भी बहुत सीमित होकर रह गया है। जिसके चलते नौकरी पेशा जोड़े परिवार के साथ रहना पसंद नहीं करते और अपनी जिम्मेदारियों से दूर भागते हैं। जिससे कोई भी उनके बीच किसी भी प्रकार की दखलअंदाजी ना करे। परिवार के साथ रहने पर अगर पति पत्नी के बीच कभी झगड़ा हुआ तो घर के लोग समझा कर मामला शांत करा देते हैं, लेकिन अकेले रहने पर ऐसा नहीं हो पाता और विवाद बढ़ता चला जाता है।

प्यार व विश्वास में कमी: आज के समय के नौजवान अपना पार्टनर परफेक्ट चाहते हैं, पर पार्टनर के साथ विश्वास में कमी शादी टूटने का कारण बनती है।

3Image Source: http://3.bp.blogspot.com/

एक-दूसरे से अधिक अपेक्षाएं: आज की युवा पीढ़ी चाहे वो पुरुष हो या महिला सभी की अपनी एक पसंद होती है। जिसके अनुसार वो अपने होने वाले जावनसाथी को लेकर सपना संजोते हैं। लड़कों का यह अरमान होता है कि उसकी पार्टनर नौकरी करने के साथ-साथ घर की जिम्मेदारियों को भी निभाए। वहीं पढ़ी लिखी लड़कियां भी यही चाहती हैं कि उसका पति सुंदर होने के साथ अच्छा कमाने वाला हो जो उसका और उसके मायके वालों का सम्मान करे। ये अपेक्षाएं पूरी ना होना दोनों के बीच दूरियों का कारण बनती हैं।

4Image Source: http://budiin.24sata.hr/

कैसे बचाएं अपने रिश्ते को-

– रिश्तों के बीच बढ़ती दूरियों को दूर करने के लिये अपने अहंकार से ज्यादा रिश्ते को महत्व दें।
– हर पति पत्नी में एक-दूसरे के प्रति प्यार, समर्पण और विश्वास की भावना होनी चाहिये।
– पति पत्नी को एक-दूसरे के मां, बाप व परिवार के सभी सदस्यों का समान रूप से सम्मान करना चाहिये।
– हर छोटी बड़ी बातों को एक-दूसरे से ना छुपायें, बल्कि उसे शेयर करें।
– दोनों अपनी बाहरी परेशानियों को परिवार के बीच ना लाते हुए जितना भी समय मिले प्यार भरे लम्हों के साथ बिताएं। इसके अलावा आपसी प्यार व संबंधों को बढ़ाने के लिये सेक्स का होना काफी जरूरी है। जो शादीशुदा रिश्ते को सफल बनाने में खास महत्व रखता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here