प्रधानमंत्री मोदी ने खोला बड़ा राज कि “कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा”, आप भी जानें

0
456

 

वर्ष 2015 में आई फिल्म “बाहुबली” ने एक बड़ा प्रश्न लोगों के मन में छोड़ दिया था कि “कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा”, इस प्रश्न का उत्तर सोशल मीडिया पर बहुत से लोगों ने अपने मन के मुताबिक दिया था, पर क्या आप जानते हैं कि इस प्रश्न का सही उत्तर अपने देश के प्रधानमंत्री को पता है, यदि नहीं तो आज हम आपको बता रहें हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यह पता है कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा और इस बात को अपने प्रधानमंत्री ने मऊ की चुनावी रैली में भी बताया, तो आइए जानते हैं कि प्रधानमंत्री ने कटप्पा और बाहुबली को लेकर क्या कहा।

सबसे पहले तो हम आपको यह बता बता दें कि 2015 में आई निर्देशक राजमौली की फील्म बाहुबली ने अपने समय में सफलता के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे और आज फिर से यह फिल्म प्रकाश में तब आई जब प्रधानमंत्री ने अपनी रैली के मंच से इस फिल्म का जिक्र किया। जैसा की आप जानते ही होंगे कि वर्तमान में यूपी में चुनाव चल रहें हैं और बीजेपी के सारे नेता प्रचार में जुटे हुए हैं, इसी अवसर पर प्रधानमंत्री ने मऊ में अपनी चुनावी रैली की और सभी लोग उस समय चकित रह गए जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंच से फिल्म बाहुबली का जिक्र कर फिल्म के पात्र कटप्पा की तारीफ कर डाली।

क्या कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाहुबली के संबंध में

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मऊ में अपनी चुनावी रैली के मंच से लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि “कुछ समय पहले एक चलचित्र आया है बाहुबली नाम का और इसके मुख्य पात्र बाहुबली का कटप्पा ने सब कुछ खत्म कर दिया था। इस बार यदि बीजेपी यूपी में आएगी तो जितने भी बाहुबली हैं, उन सबको ऐसे ही बर्बाद कर दिया जाएगा और जितने भी बाहुबली आज हंसते हुए जेल जाते हैं, वे अब ऐसा नहीं कर पाएंगे, क्योंकि अब उनके दिन खत्म हो चुके हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यदि यूपी में बीजेपी की सत्ता आती है तो सभी बाहुबलियों से कटप्पा की ही तर्ज पर निपटा जाएगा।”

image source:

लोगों ने उठाए प्रधानमंत्री मोदी पर सवाल –

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा रैली में फिल्म बाहुबली के कटप्पा की तारीफ करना भारी पड़ गया, क्योंकि फिल्म में बाहुबली का चरित्र बहुत अच्छा दिखाया गया था, जिसके कारण लोगों की उसके प्रति संवेदना अभी भी बनी हुई है, इसलिए बहुत से लोगों ने प्रधानमंत्री मोदी से सोशल मीडिया पर प्रश्न कर डाले है कि आखिर उन्होंने कटप्पा की प्रशंसा आखिर किस हिसाब से की।

image source:

इसी क्रम में रेडिट के यूजर ने कहा है कि “आपको पता है कि फिल्म में बाहुबली एक सकारात्मक किरदार था. आपको लगता है कि अखिलेश का शासनकाल बाहुबली की तरह है? प्रधानमंत्री जी ने अखिलेश के शासनकाल को अच्छा बता दिया है।”, दूसरी ओर ट्विटर के एक यूजर ने कहा है कि “‘मोदी जी ने कटप्पा को कट्टप कहा, उन्होंने यह भी कहा कि सारे बाहुबलियों को खत्म करेंगे. हालांकि हमलोग अभी तक नहीं जानते कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा था?”, इस प्रकार देखा जाए तो प्रधानमंत्री मोदी ने कटप्पा को राजनीति से मिलाकर एक सकारात्मक संदेश देने की कोशिश की है, क्योंकि “बाहुबली” शब्द वर्तमान राजनीति का प्रचलित शब्द है, पर लोगों ने मोदी के संदेश का रुख फिल्म समीक्षा की ओर मोड़ कर उनसे कई प्रश्न कर डाले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here