राजस्थान- सुख समृद्धि के लिए सांपों से जीभ पर डसवाते हैं ये लोग

बहुत से लोग भारत को अंधविश्वासी देश कहते हैं और सही बात यह है कि यहां की कुछ मान्यताएं इस प्रकार की है कि जिनको देखकर आपका दिमाग भी खराब हो जाएगा। ऐसे में यदि कुछ लोग भारत को अंधविश्वास का देश कहते हैं तो गलत क्या कहते हैं। कहीं पर परंपरा के नाम आग पर नंगे पांव चलना पड़ता है तो कहीं पर अपनी जीभ पर जहरीले सांपों से डसवाना पड़ता है। आज हम आपको एक ऐसी ही मान्यता के बारे में बता रहें हैं, जिसमें लोग अपने घर से बीमारियों को दूर करने के लिए और घर की शांति और सुख के लिए सांपों से अपनी जीभ पर डसवाते हैं।

tejaji-maharajveer-tejajirajasthan1Image Source:

15 सितंबर को वीर तेजाजी मंदिर, राजस्थान में यहां के स्थानीय लोग एक त्यौहार मनाते हैं। इस त्यौहार में लोग अपनी जीभ पर सांपों से कटवाते हैं ताकि उनके घर में शांति और सुख का वास हो तथा घर में किसी प्रकार की बीमारियां न आ पाएं। यहां पर हम आपको यह भी बता दें कि वीर तेजा जी को सांपों का देवता माना जाता है और उनको भगवान शिव के 11 अवतारों में से एक माना जाता है। इस त्यौहार में अन्य कई राज्यों के लोग भी आते हैं। यहां पर आने वाले लोग सांपों को हाथ में लेकर नाचते नजर आते हैं और अपनी जीभ पर डसवाते हैं। लोगों का मानना है कि ऐसा करने से बीमारियां सही हो जाती हैं।

To Top