जीने के लिए यहां मिट्टी खा रहें हैं लोग, क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने शेयर किया वीडियो

क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग

आपने बहुत से गरीब लोगो को देखा होगा ,पर क्या आपने ऐसी गरीबी देखी है। जिसमें लोग मिट्टी की रोटियां खाने को मजबूर हो जाएं। शायद आपने इस प्रकार की गरीबी नहीं देखी होगी। हाल ही में पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीटर पर एक वीडियो शेयर किया है। यह वीडियो हैती नामक देश का है। इस वीडियो में वहां की गरीबी को दिखाया गया है। यह वीडियो काफी इमोशनल भी है। अब तक बड़ी संख्या में लोग इस वीडियो को देख चुके हैं। इस वीडियो में दिखाया गया है कि वहां के लोग इतनी गरीबी से जूझ रहें हैं कि उनको मिट्टी की रोटियां बनाकर खानी पड़ रहीं हैं। इस वीडियो में कुछ लोगों को मिट्टी में नमक तथा पानी मिलाकर उनकी लोई बनाते हुए दिखाया गया है। ये लोग लोई को सूरज की धूप में रख देते हैं और सूखने पर बच्चे तथा बड़े सभी इसको खाते हैं।

पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने इस वीडियो को शेयर करते हुए एक मार्मिक अपील भी लोगों से की। उन्होंने लिखा ”गरीबी! हैती में मिट्टी में नमक मिलाकर रोटियां बनाई जाती है. यहां के लोग इसे खाते हैं. प्लीज… प्लीज खाने को बर्बाद न करें. हम जिसकी कद्र नहीं करते वो किसी के लिए बहुत अहम है. अपना बचा हुआ खाना किसी जरूरतमंद को दान करें या फिर रोटी बैंक तक पहुंचाए जो जरूरतमंदों तक पहुंचाती है।”

क्रिकेटर वीरेंद्र सहवागImage source:

आपको जानकारी दे दें कि हैती में करीब एक करोड़ लोग निवास करते हैं। लेकिन इनमें से 30 लाख लोगों के घर तक भोजन ही नहीं पहुंच पाता है। यहां के बहुत से लोग कुपोषण के शिकार है तथा यहां की प्रमुख समस्या अब भुखमरी बन गई है। इस समस्या का अभी तक कोई निवारण नहीं हो सका है इसलिए लोग मिट्टी के कीचड़ में नमक मिलाकर उसको खाने को मजबूर हैं। देखा जाएं तो पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने जो संदेश इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है वह अपने आप में बहुत अहम है। अधिकतर लोग इस और ध्यान ही नहीं देते और जो जरूरतमंद लोग हैं वे भूखे ही रह जाते हैं। अतः हम लोगों को इस और सीरियस होकर ध्यान देना चाहिए। इसी में सब की उन्नति है।

To Top