_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/04/","Post":"http://wahgazab.com/will-you-eat-or-decorate-this-banana-worth-87000/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/will-you-eat-or-decorate-this-banana-worth-87000/banana-cover/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/73fc61f08fdcf71b6cf8325880872cf3/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

19 नवंबर को हैं पृथ्वी के प्रलय का दिन, जानिए इस भविष्यवाणी के बारे में

world-new-conspiracy-theory-suggests-black-star-will-cause-the-end-of-earth-on-19-november COVER

धरती के खात्मे की कई बार भविष्यवाणी हो चुकी हैं। इसी क्रम में एक बार फिर से बताया जा रहा हैं कि 19 नवंबर 2017 को पृथ्वी ख़त्म हो जाएगी। इससे पहले कई बार क्षुद्र ग्रह के धरती से टकराने तथा माया सभ्यता के कैलेंडर अनुसार प्रलय आने जैसी कई भविष्यवाणीयां की जा चुकी हैं लेकिन हर बार यह दावे खोखले ही साबित होते हैं।

दरअसल पृथ्वी के नष्ट होने वाली यह कॉन्सपिरेसी थ्योरी लोगों को अब तक उलझाए हुए हैं। कुछ समय पहले लोगों ने यह दावा भी किया था कि धरती से 23 सितंबर को निबिरू ग्रह (Planet Nibiru) टकरायेगा और पृथ्वी नष्ट हो जाएगी, पर ऐसा कुछ नहीं हुआ।

यह हैं नई कॉन्सपिरेसी थ्योरी –

world-new-conspiracy-theory-suggests-black-star-will-cause-the-end-of-earth-on-19-novemberimage source:

वर्तमान में एक नई कॉन्सपिरेसी थ्योरी सामने आई हैं। इस थ्योरी में के मुताबिक 19 नवंबर को ब्लैक स्टार नामक एक खगोलीय पिंड अपने गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र के कारण पृथ्वी से टकरा जायेगा। इससे बहुत बड़े स्तर का भूकंप आएगा कि धरती पर मानो प्रलय आ जाएगा। आपको बता दें कि “टेरियल क्रॉफ्ट” नामक एक व्यक्ति ने इस थ्योरी को सबके सामने रखा हैं।

इस व्यक्ति ने इस घटना के बारे में बताते हुए कहा कि “यह घटना 19 नवंबर 2017 को होगी जब पृथ्वी सुरज के पीछे तुला नक्षत्र में ब्लैक स्टार के सापेक्ष होकर गुजरेगी। सुबह 4:12 बजे के करीब यह सब होगा और भूकंप तथा ज्वालामुखी विस्फोट आदि भी होंगे।” टेरियल क्रॉफ्ट ने अपनी इस खोज में अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण द्वारा प्राप्त आकड़ो को निबिरू ग्रह तथा ब्लैक स्टार के गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र से भी जोड़ा।

टेरियल ने यह भी बताया कि भूकंप के संकेत इस बात की पुष्टि करते हैं कि पृथ्वी अब बदलाव के दौर में है। खैर, इस प्रकार की नई-नई तारीखे देकर धरती पर प्रलय की बात करने वाले अब तक कई लोग सामने आ चुके हैं लेकिन समय आने पर कुछ नहीं होता हैं। ऐसे में यह माना जा सकता हैं कि यह लोगों को महज डराने वाली कुछ बाते मात्र हैं।

To Top