_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/02/","Post":"http://wahgazab.com/actress-nisha-noor-once-a-famous-star-but-had-a-tragic-death/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/?attachment_id=35217","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

अब मंदिरों में भी लागू होगा ड्रेस कोड

मंदिर एक ऐसा स्थान है जहां कोई भी किसी भी रुप में जाए उसे भगवान के दर्शन हो ही जाते है लेकिन अगर हम आपसे कहें कि अब आपको मंदिर जाने के लिए भी एक ड्रेस कोड को फॉलो करना होगा, तो आप भी इस बात पर यकिन नही करेगें पर यह सच है, कि अब तमिलनाडु के मंदिरों में 30 दिसंबर से ड्रेस कोड लागू होगा। इस मंदिर में अब एक खास ड्रेस पहनकर भगवान के दर्शन किए जा सकेगें। हाल ही में मद्रास हाईकोर्ट द्वारा तमिलनाडु के मंदिरों के लिए ड्रेस कोड तय कर दिया गया है, जिसके तहत मंदिर जाने वाले पुरूष श्रद्धालुओं को धोती-कुर्ता वहीं महिला श्रद्धालुओं को साड़ी पहनना अनिवार्य कर दिया गया हैं। यह नियम राज्य में नए साल के साथ लागू कर दिया जाएगा।

indian temple dress codeImage Source: http://www.makemytrip.com/

वैसे आपको बता दे कि तमिलनाडु पहला ऐसा राज्य नहीं है जहां के मंदिरों में ड्रेसकोड सिस्टम है पहले भी कई मंदिरों में यह व्यवस्था लागू हो चुकी हैं। यूपी के काशी विश्वनाथ मंदिर में कुछ दिन पहले ही विदेशी भक्तों के लिए पूरे कपड़े पहनने का नियम लागू किया गया हैं। साथ ही कहा गया कि शॉर्ट्स में कोई भी भक्त मंदिर के अंदर प्रवेश नही कर सकते हैं। इतना ही नहीं गुजरात के सोमनाथ मंदिर में भी शॉर्ट ड्रेस या मिनी स्कर्टस पहनकर अंदर नहीं जा सकते है तथा मंदिर परिसर से 200 मीटर की दूरी पर एक बोर्ड लगाया गया है जिस पर लिखा हुआ है कि अमर्यादित कपड़े पहनकर मंदिर में प्रवेश न करें। इन्हीं सभी को ध्यान में रखते हुए तमिलनाडु के चर्चित मंदिरों की गरीमा को बनाए रखने के लिए यह आदेश आए है। जनवरी से इस नियम को मंदिरों में लागु कर दिया जाएगां।

indian temple dress code2Image Source: http://mypassporttoindia.org/

Most Popular

To Top