खेल में खिलाड़ियों को गलत व्यवहार करना पड़ेगा भारी

जेटंलमैन गेम कहे जाने वाले क्रिकेट में इन दिनों स्लेजिंग के काफी केस देखने को मिल रहें हैं। खेल में इस तरह के मामलों को कम करने के लिए अब जल्द ही हॉकी और फुटबॉल की तरह ही क्रिकेट में भी येलो और रेड कार्ड दिखाकर खिलाड़ियों पर गलत व्यवहार के लिए नकेल कसी जाएगी।

बीते दिनों में क्रिकेट में खिलाड़ियों के बीच कहासुनी का मामला अक्सर देखने को मिला है। किसी भी खेल में शामिल होने वाली दो टीमों के बीच अमुमन इस तरह की कहासुनी की घटना होना आम बात है। लेकिन हॉकी और फुटबॉल में इस तरह के मामलों पर लगाम लगाने के लिए ही रेड और येलो कार्ड की व्यवस्था शुरू की गई है।

1Image Source: http://media2.intoday.in/

कुछ इसी तरह के मामले क्रिकेट में न देखने को मिले इसके लिए अब इस जेंटलमैन गेम में भी इस रेड और येलो कार्ड की परंपरा लाने पर विचार किया जा रहा है। मैरिलबोन क्रिकेट क्लब ने इस खेल में खिलाड़ियों के बीच होनें वाले गलत व्यवहार के लिए एक प्रयोग के रूप में येलो और रेड कार्ड लाने की व्यवस्था शुरू करने का फैसला लिया है। इसके अतंर्गत खिलाड़ी को उसके गलत व्यवहार के लिए रेड कार्ड दिखाकर फिल्ड से बाहर कर दिया जाएगा या फिर उसे दस ओवरों के लिए पैनाल्टी बॉक्स में भेज दिया जाएगा। क्लब इस व्यवस्था स्कूल और विश्वविद्यालय स्तर पर शुरू करने जा रहा है। इंग्लैंड में बीते वर्ष करीब पांच मैचों को खिलाडि़यों के गलत व्यवहार के लिए रद्द किया जा चुका है। इस क्लब ने विश्व श्रेणी के अंपयरों के संघ से बात करने के बाद ही गलत व्यवहार के लिए चार श्रेणी बनाई है। जिसके तहत ही खिलाड़ियों को कार्ड दिखाकर उनकी गलती बताई जाएगी।

To Top