दिल्ली की तबाही लेकर जल्द आ रहा है भयानक भूकंप, जानें इस खबर के बारे में  

दिल्ली

सोशल मीडिया पर प्रतिदिन बहुत से वीडियो तथा तस्वीरें अपलोड किए जाते हैं। इनमें से बहुत सी खबरें ऐसी होती हैं जिनको पढ़कर कोई भी हैरान हो जाता है। हाल ही में एक ऐसी ही खबर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस खबर में यह बताया जा रहा है कि “नासा द्वारा  की गई एक भविष्यवाणी के अनुसार भारत की राजधानी दिल्ली में 9 से 15 अप्रैल के बीच एक भयानक भूकंप आएगा और इससे दिल्ली में बड़े स्तर पर जान-माल की हानि होगी।”

आखिर क्या है वायरल मैसेज में

आखिर क्या है वायरल मैसेज मेंImage source:

वायरल मैसेज में लिखा हुआ है कि “नासा की खबर के अनुसार दिल्ली में बड़े स्तर का भूकंप आने वाला है। रिएक्टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 9.1 या 9.2 तक हो सकती है। मैसेज में आगे लिखा है कि इस भूकंप का केंद्र गुरुग्राम होगा। यह पहली बार है, जब नासा ने भूकंप आने से पहले ही इसकी भविष्यवाणी कर दी है। आपके सगे संबंधी यदि दिल्ली एनसीआर में रहते हो तो उन सभी को इस बारे में जरूर बता दें।”

इस मैसेज में दिल्ली के लोगों को यहां से बाहर जानें की सलाह दी गई है। मैसेज में यह बताया गया है कि “यह भूकंप काफी बड़े स्तर का होगा तथा इससे हरियाणा, जम्मू कश्मीर, पंजाब, बिहार तथा राजस्थान राज्य भी प्रभावित होंगे। यदि संभव हो तो आप एक सप्ताह के लिए दिल्ली से बाहर चले जाएं। ज्यादा जानकारी के लिए  www.nasaalert.com पर जाएं।” इस प्रकार यह मैसेज सोशल मीडिया पर लगातार शेयर किया जा रहा है, खैर अब हम बताते हैं इस मैसेज के पीछे का सच।

क्या है असल सच

क्या है असल सचImage source:

इस मैसेज का सच जानने के लिए हमने मैसेज में दी गई साइट  www.nasaalert.com पर क्लिक किया। कुछ समय इंतजार करने के बाद भी हमारे कंप्यूटर पर कुछ नहीं आया। बाद में लिखा आया कि यह पेज कार्य नहीं कर रहा है। इस बारे में भू वैज्ञानिक जे.एल गौतम का कहना है कि “दिल्ली के इतिहास में ऐसा भूकंप आजतक नहीं आया है। यह बात सही है कि यदि भूकंप की तीव्रता रियेक्टर पैमाने पर 6 से ज्यादा होती है तो उसको अन्य राज्यों में महसूस किया जा सकता है, लेकिन भूकंप का केंद्र गुरुग्राम होगा या दिल्ली इस बात का सही से पता नहीं लग सका है।

अभी इस बारे में रिसर्च चल रहीं हैं। उन्होंने आगे कहा कि ऐसी तकनीक अभी तक नहीं आ पाई है। जिससे समय से पहले भूकंप की तीव्रता या स्थान का पता लग सके।” इसके अलावा जब नासा की आधिकारिक वेबसाइट पर इसके बारे में सर्च किया गया तो ऐसी कोई जानकारी हमें नहीं मिल सकी। इस प्रकार से यह कहा जा सकता है कि भूकंप का यह मैसेज तथा इसकी खबर महज अफवाह ही है।

To Top