रेलवे ने किये ये बड़े बदलाव, जानें यात्रियों को मिलेगा क्या फायदा

भारतीय रेलवे

भारतीय रेलवे ने अपने डिपार्टमेंट के जरिये बहुत से बड़े बदलाव पिछले कुछ समय में किये हैं। इनमें से कुछ बड़े बदलाव पिछले 2 वर्षों में किये गए हैं। असल में रेलवे में यात्रियों से अपनी लेट लतीफी, सर्विस तथा गंदगी को लेकर फीडबैक मांगा था। इस बारे में यात्रियों की और से जो विचार दिए गए। उनको रेलवे ने अमल में लाया तथा शुरू किया बदलाव का कार्य। यदि आप भी यात्रा के दौरान कुछ असुविधा पाते हैं तो आपको रेलवे में हुए इन बदलावों को जानना बहुत जरुरी है। आइये जानते हैं रेलवे ने आखिर कौन कौन से बदलाव किये हैं।

1 – वेटिंग कन्फर्म नहीं होने पर दूसरी ट्रेन में मिलेगी सीट

वेटिंग कन्फर्म नहीं होने पर दूसरी ट्रेन में मिलेगी सीटImage source:

आपको बता दे की भारतीय रेलवे की और से 2016 में “विकल्प स्कीम” शुरू की गई थी। इस स्कीम के तहत यदि किसी यात्री की वोटिंग कन्फर्म नहीं होती है तो उसको उसी रूट की दूसरी ट्रेन में सीट दिलाई जाती है। यह सुविधा सभी के लिए हैं और इस सुविधा के तहत यात्री 7 ट्रेन में से किसी भी एक ट्रेन को चुन सकते हैं।

2 – रेल के लेट होने की SMS से जानकारी

 रेल के लेट होने की SMS से जानकारीImage source:

रेलवे ने यह सुविधा रेलवे स्टेशनों पर होने वाली भीड़ को नियंत्रित रखने के लिए तथा सभी सुविधाओं को सुचारू रूप से चलाने के लिए शुरू की हुई है। इस सुविधा में यात्री को रेलवे डिपार्टमेंट SMS के जरिये ट्रेन के लेट होने की जानकारी देता है।

3 – RAC कोटे की सीट बढ़ाई हैं

RAC कोटे की सीट बढ़ाई हैंImage source:

रेलवे ने RAC कोटे की सीटें बढ़ाई हैं। इसके अलावा 45 वर्ष से अधिक की महिलाओं के लिए एसी कोच में 6 लोअर बर्थ का कोटा तय किया है। इस सुविधा का लाभ प्रग्नेंट महिलायें तथा वरिष्ठ नागरिक भी उठा सकते हैं।

4 – बदबूदार कंबल हटाएं गए

बदबूदार कंबल हटाएं गएImage source:

यात्रियों को हमेशा यह शिकायत रहती थी की रेलवे यात्रा के दौरान दिए गए कंबलों से बदबू आती है। नई व्यवस्था के तहत उसको बदला गया है। इसके अलावा उनकी धुलाई भी एक माह में अब 2 बार की जायेगी। इसके अलावा एसी कोच के यात्रियों को नायलॉन के कंबल मिलेंगे।

5 – भोजन की क्वालिटी में बदलाव किया

 भोजन की क्वालिटी में बदलाव कियाImage source:

यात्रियों ने कई बार भोजन की क्वालिटी में बदलाव करने का सुझाव रेलवे को दिया था। इस बात को ध्याना में रखते हुए रेलवे ने अब भोजन की क्वालिटी में बदलाव किया है। अब वेज तथा नॉनवेज राइस का कॉम्बो यात्रियों को भोजन के तौर पर मिलेगा।

6 – ​​फ्री वाई-फाई की सुविधा

फ्री वाई-फाई की सुविधाImage source:

यह सुविधा भारतीय रेलवे ने 2016 में प्रारंभ की थी। वर्तमान में यह सुविधा देश के 700 रेलवे स्टेशनों पर संचालित है। करीब 80 लाख लोग इस सुविधा का लाभ प्रति माह उठा रहें हैं। इस सुविधा में हर यात्री को रेलवे स्टेशन पर 30 मिनट के लिए मुफ्त वाई फाई का एक्सेस मिलता है।

7 – बायो-टॉयलेट्स लगाए गए

बायो-टॉयलेट्स लगाए गएImage source:

रेलवे ने बायो-टॉयलेट्स को लगाया है। इनसे पटरियों को साफ़ रखने में मदद मिलती है। अब तक करीब एक लाख बायो-टॉयलेट्स लगाए जा चुके हैं। अब रेलवे का अगला प्लान टॉयलेट के फ्लोर को चेंज करने का है ताकी वह जल्दी गंदा न हो सके।

8 – प्यूरिफाइड वॉटर की सुविधा

प्यूरिफाइड वॉटर की सुविधाImage source:

यह सुविधा इसलिए शुरू की गई ताकी यात्रियों को कम पैसे में शुद्ध जल मिल सके। इसके तहत अब तक 345 रेलवे स्टेशनों पर 1100 वाटर एटीएम लगाए गए हैं। यहां पर आपको 5 रूपए में एक लीटर तथा एक रुपये में एक गिलास शुद्ध पानी आसानी से मिल जाता है।

9 – रीडिंग लाइट्स लगाईं गई

रीडिंग लाइट्स लगाईं गईImage source:

अक्सर देखा जाता है की रात को यात्रा के बीच में लाइट के खोलने या बंद करने पर यात्रियों में विवाद हो जाता है। इस चीज को ध्यान में रख कर अब रेलवे ने अपने हर नए कोच में प्रत्येक बर्थ पर रीडिंग लाइट्स लगाईं हैं।

10 – सोशल मीडिया से शिकायतों का सुनना

सोशल मीडिया से शिकायतों का सुननाImage source:

भारतीय रेलवे ने खुद को यात्रियों से जोड़ने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है। इसके लिए रेलवे फेसबुक तथा ट्विटर के जरिये यात्रियों की शिकायतें सुनता है तथा असुविधाओं को दूर करता है। अब रेलवे ने “मदद” नामक एक एप भी लांच किया है। इसकी मदद से रेलवे यात्रियों की शिकायतों की लाइव ट्रैकिंग कर सकेगा।

To Top