यह झील मांगती है एक अविवाहित लड़की की बलि, जिसने भी रहस्य का पता लगाया उसकी हुई मौत

रहस्य

रहस्यों से भरी इस दुनिया में आज भी कुछ ऐसी अजीबोगरीब चीजें देखने को मिलती है जिसके बारें में आज तक कोई नही जान पाया है ना ही विज्ञान भी इस रहस्य को सुलझाने में सामर्थ हो पाया है। जिसके चलते इन रहस्यों से पर्दा उठ नही पाया है। आज हम आपको एक ऐसी ही रहस्यमयी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकर आप हो जाएंगे हैरान।

धरती की गोद में कई तरह के झरने तलाब नदिया और झीलें है जिनकी कलकल करती ध्वनी से लोग मोहित होकर खीचे चले आते है। पर झीलों में कुछ ऐसा रहस्य छुपा मिल जाय जिसके पास जाने से ही मौत उसे अपनी ओर खीच लेती हो तो हैरान करने वाली होती है पर ये बात सच है कि दक्षिण अफ्रीका के उत्तरी ट्रांसवाल क्षेत्र में स्थित पांडुजी नामक झील जिसे लोग शापित मानते है। बताया जाता है कि इस झील के पास गया जो लोग भी गये है वो वापस नहीं लौटे। यदि आप सोच रहे है कि यहां का पानी दूषित या फिर जहरीला होगा या इसके आसपास कोई जहरीली गैस होगी, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है।

रहस्य

लोगों ने समय-समय पर इसके रहस्य पर से पर्दा उठाने की कोशिश की, लेकिन कोई भी इसके रहस्य को समझ नही पाया कि आखिर कौन है जो इस तरह से लोगों की जान ले लेता है। हर बार कुछ ऐसा हो जाता कि खोजकर्ताओं की टीम को खाली हाथ लौटना पड़ता था। इन्ही सब कारणों के चलते लोग अब इस झील को शापित मानते हैं।

पांडुजी नामक चर्चित इस झील के बारे में एक रोचक बात यह है कि इस नदी के पानी का मुख्य स्त्रोत कहां से आता है कोई नही जानता। लेकिन समय समय पर झील का पानी अजीबो-गरीब तरीके से ज्वार-भाटा की तरह उठता गिरता रहता है। लोगों का माना है कि इस झील में पानी मुटाली नदी से आता है।

रहस्य

पांडुजी झील के आस-पास रहने वाले लोगों का मानना है कि इस झील के अंदर एक विशाल अजगर निवास करता है जो मुटाली नदी के क्षेत्र में रहता है। और यह विशाल अजगर उर्वरा के देवता हैं। जिन्हें लोगों के आस- पास रहना बिल्कुल भी पसंद नही है और ना ही वे चाहते है कि कोई भी इस झील के आस-पास आए।

उर्वरा के देवता हर साल एक कुंवारी लड़की की बलि मांगते हैं। और वहां के लोग अपने स्थानीय निवासी देवता को  प्रसन्न रखने के लिए डोम्बा नृत्य का आयोजन करते हैं। वाकई में पांडुजी झील अपने अंदर कई सारे रहस्यों को समेटे हुए हैं जिसके बारे में आज भी कोई समझ नही पाया है।

To Top